हल्द्वानी, जेएनएन : सीबीएसई ने परीक्षा से पूर्व व परीक्षा के बाद परीक्षार्थियों को मानसिक दबाव से उबारने के लिए प्री-एग्जाम साइकोलॉजिकल काउंसलिंग शुरू की है, जो 30 मार्च तक चलेगी। इसके तहत 95 प्रधानाचार्य और उनके साथ ट्रेंड काउंसलर परीक्षार्थियों का तनाव दूर करेंगे। इसके लिए परीक्षार्थियों को टोलफ्री नंबर पर कॉल करना होगा।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने दसवीं व बारहवीं बोर्ड परीक्षा के लिए परीक्षार्थियों को यह सुविधा निश्शुल्क देने का मन बनाया है। सुविधा के तहत सीबीएसई के एक्सपर्ट हर हफ्ते परीक्षार्थियों के सवालों का जवाब देंगे। इसके लिए टोलफ्री नंबर 1800118004 पर कॉल करनी होगी। फोन पर प्रधानाचार्य व काउंसलर्स से परीक्षा संबंधित समस्याएं व सुझाव पूछे जा सकेंगे। साथ ही अभिभावक भी प्री-रिकॉर्डेड कॉल सुन सकेंगे। इसमें परीक्षार्थियों को परीक्षा की तैयारी, स्ट्रेस मैनेजमेंट आदि के बारे में बताया जाएगा। 222.ष्ड्ढह्यद्ग.ठ्ठद्बष्.द्बठ्ठ पर जाकर काउंसलिंग टैब पर क्लिक करके ऑडियो-विजुअल प्रजेंटेशन भी देखे जा सकते हैं।

क्या कहते हैं प्रधानाचार्य

शिवालिक इंटरनेशनल स्कूल के प्रधानाचार्य पीएस अधिकारी परीक्षा के दौरान बच्चों को माता-पिता का सपोर्ट जरूरी है। कई बार बच्चे खुद पर दबाव महसूस करने लगते हैं। इस कार्यक्रम से काफी मदद मिलेगी। श्री गुरु तेग बहादुर सीनियर सेकेंड्री स्कूल के प्रधानाचार्य विजय जोशी का कहना है कि सीबीएसई का ये कदम सराहनीय है। परीक्षा को लेकर दबाव, तनाव दूर करने में इससे मदद मिलेगी। अभिभावक भी इसमें हेल्प ले सकेंगे। यूनिवर्सल कॉन्वेंट सीनियर सेकेंड्री स्कूल के प्रबंधक सुनील जोशी का कहना है कि इस सुविधा के माध्यम से बोर्ड परीक्षार्थियों को उनके सवालों का सही जवाब मिल सकेगा। परीक्षा से पहले या बाद में उनके मन में जो भी शंका होगी वो दूर होगी। सिंथिया सीनियर सेकेंड्री स्कूल के प्रधानाचार्य के प्रवींद्र रौतेला ने बताया कि परीक्षा से पहले व बाद में नंबरों को लेकर परीक्षार्थी मनोवैज्ञानिक दबाव महसूस करते हैं। इसे दूर करने के लिए यह कार्यक्रम बेहतर रहेगा।

यह भी पढ़ें : शासन ने कुमाऊं विवि में नियुक्तियों पर लगाई रोक, प्रभारी सचिव उच्च शिक्षा ने कुलपति को भेजा पत्र

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस