जागरण संवाददाता, बागेश्वर : प्लास्टिक और पॉलीथिन का उपयोग करना अब भारी पड़ सकता है। दुकानदारों के साथ ही नगर पालिका उपभोक्ताओं पर भी कार्रवाई करेगी। सौ से लेकर पांच लाख रुपये तक का जुर्माना भी वसूला जाएगा। जिसको लेकर पालिका ने नगर पंचायत कपकोट और नगर पालिका बागेश्वर के व्यापारियों को नोटिस भी जारी किए गए हैं। उन्हें पॉलीथिन का उपयोग बंद करने को कहा गया है।

पर्यावरण मंत्रलाय से जारी आदेश के बाद पालिका ने शहर को पुन: पॉलीथिन मुक्त बनाने का संकल्प लिया है। जिसके लिए टीमें तैयार की जा रही हैं। नगर पालिका के अलावा नगर पंचायत कपकोट में भी पालिका छापेमारी अभियान चलाएगी। फिलहाल पालिका दुकानदारों को पॉलीथिन का उपयोग नहीं करने को नोटिस भेज रही है। अलबत्ता पॉलीथिन के कारण पर्यावरण को भारी नुकसान होता है। खेती भी इससे प्रभावित हो रही है और नाली आदि स्थानों को पॉलीथिन बंद कर देता है। जिसके कारण शहर में जलभराव की स्थिति भी पैदा होने लगी है। नगर पालिकाध्यक्ष सुरेश खेतवाल ने कहा कि शहर को स्वच्छ बनाने के हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। पर्यावरण संरक्षण और संवर्धन के लिए पॉलीथिन का उपयोग करना बंद करना होगा।

ऐसे होगी कार्रवाई

बाजार में पॉलीथिन में सामान आदि लेने जाने पर उपभोक्ता से सौ रुपये का जुर्माना वसूला जाएगा। दुकान में पॉलीथिन से सामान देने पर व्यापारी से एक लाख रुपये का जुर्माना होगा और बड़ी संख्या में पॉलीथिन की बिक्री करने वाले थोक बिक्रेताओं के पकड़ जाने पर पांच लाख रुपये का अर्थदंड देना होगा।

राजदेव जायसी, अधिशासी अधिकारी नेे बताया क‍ि  पर्यावरण मंत्रालय से जारी आदेश के बाद टीमें गठित कर दी हैं। पालिका बड़ी कार्रवाई करने जा रही है। शहर में पॉलीथिन पर पूरी तरह रोक लगाई जाएगी। अब आम उपभोक्ता से भी जुर्माना वूसला जाएगा।

Edited By: Prashant Mishra