जागरण संवाददाता, हल्द्वानी: दमुवाढूंगा निवासी चायपत्ती कारोबारी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। घटना के दौरान परिजन घर पर नहीं थे। मामला पुलिस तक नहीं पहुंचा और बगैर पोस्टर्माटम के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

जानकारी के अनुसार शनिवार रात 34 वर्षीय राजेंद्र पांडे की रिश्तेदारी में शनिवार रात किसी का जन्मदिन था। पत्‍‌नी सरिता और छह साल के बेटे आयुष को वहां छोड़कर वह अकेला घर आ गया। रविवार सुबह पत्‍‌नी के कई बार फोन करने के बावजूद उसका फोन नहीं उठा। जिसके बाद सरिता ने घर आकर देखा तो राजेंद्र बेसुध पड़ा था। उसके मुंह से झाग निकल रहा था। उसे शहर के एक निजी अस्पताल में लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। करीबी दोस्तों ने बताया कि राजेंद्र बेहद मिलनसार स्वभाव का था। जुलाई में अमरनाथ यात्रा में जाने के लिए उसने रजिस्ट्रेशन भी करवाया था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस