जागरण संवाददाता, काशीपुर : जीजा के दुष्कर्म करने और बदनाम करने की धमकी देने से आहत युवती ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। जानकारी होने पर मां ने आरोपित जीजा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

आइटीआइ थाना क्षेत्र की निवासी 22 वर्षीय एक युवती ने गुरुवार रात घर में जहरीला पदार्थ खा लिया। हालत बिगड़ने पर स्वजन उसे लेकर एलडी भट्ट राजकीय चिकित्सालय पहुंचे। यहां प्रारंभिक उपचार के बाद युवती को हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। नगर के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान युवती की मौत हो गई। शुक्रवार दोपहर युवती की मां ने आइटीआइ थाना पुलिस को तहरीर सौंप कर बताया कि उनकी बड़ी बेटी की शादी नौ साल पहले गढ़ीगंज गांव निवासी हरवीर सिंह के साथ हुई थी।

कुछ दिन पहले उनकी छोटी बेटी अपने जीजा के घर कुछ दिन रुकने गई थी। बहन की ससुराल से वापस आने के बाद गुरुवार रात लगभग 11 बजे उनकी छोटी बेटी ने जहर खा लिया। जब उन्होंने अपनी बेटी से जहर खाने का कारण पूछा तो उसने कहा कि बीते दिनों जीजा उसे छोड़ने उसके घर आ रहा था। इस दौरान आरोपित जीजा ने रास्ते में उसके साथ दुष्कर्म किया। जीजा ने धमकी दी कि अगर उसने यह बात किसी को बताई तो वह उसकी बहन को छोड़ देगा। लोकलाज और बहन का घर बर्बाद होने के डर से युवती ने यह बात किसी को नहीं बताई। इस घटना के कुछ दिन बाद आरोपित जीजा युवती पर शादी करने का दबाव बनाने लगा। आरोपित ने धमकी दी कि अगर युवती उससे शादी नहीं करेगी तो वह उसे बदनाम कर देगा।

मां ने कहा कि अपने जीजा के प्रताड़ित करने के कारण युवती ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। अपने अंतिम समय में युवती की ओर से दिए गए बयान का कुछ लोगों ने वीडियो भी बनाया है। आइटीआइ थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है। मृतका चार बहनें और दो भाइयों में दूसरे नंबर की थी। मृतका इंटर की पढ़ाई करने के बाद घर पर ही सिलाई का काम करती थी।

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Prashant Mishra