संस, भीमताल : विकासखंड के अन्तर्गत भौंर्सा गांव में खाई में गिरने से बाइक सवार युवक की मौत हो गई।

गांव पस्तोला निवासी बाइक सवार प्रेम बल्लभ (40) पुत्र हीरा बल्लभ शनिवार को रुद्रपुर से घर लौट रहा था। अमृतपुर से लगभग पंद्रह किमी दूर भौंर्सा में गहरी खाई में गिर पड़ा। हादसा अमृतपुर बनना-बबियाड़ मोटर मार्ग पर हुआ। ग्रामीणों के मुताबिक जब रात को प्रेम घर नहीं पहुंचा और उसका मोबाइल भी बंद मिला तो सुबह खोजबीन शुरू कर दी। तीव्र मोड़ से नीचे प्रेम की बाइक दिखाई दी। ग्रामीण खाई में उतरे तो बाइक के पास ही प्रेम मृत पड़ा था। प्रेम बल्लभ रुद्रपुर में प्राइवेट गार्ड की नौकरी में था और हर शनिवार अपने घर पस्तोला आता था। प्रेम बल्लभ के दो भाई, एक बहिन के अलावा पत्‍‌नी और एक पुत्र है। प्रेम की मौत से उसके माता-पिता का भी रो-रोकर बुरा हाल है। भीमताल थाने की पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। हल्द्वानी अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम हुआ। ..पैराफिट होता तो बच जाता प्रेम

अमृतपुर बानना-बबियाड़ मोटर मार्ग पर जिस स्थान से प्रेम बल्लभ की बाइक खाई में गिरी, पांच माह पूर्व हल्द्वानी निजी अस्पताल में कार्यरत बाइक सवार कर्मचारी की भी उसी जगह से खाई में गिरकर मौत हो गई थी। तीन वर्ष पूर्व लोनिवि का रोड रोलर भी इसी स्थान से नीचे गिरा था। चालक गंभीर रूप से घायल हुआ था। यहां तीव्र मोड़ होने के बावजूद 33 किमी लंबी सड़क पर पांच प्रतिशत भी पैराफिट नहीं है। इस मार्ग पर अमृतपुर से 16 किमी तक देखभाल का जिम्मा प्रान्तीय खंड लोक निर्माण विभाग नैनीताल का है, वहीं उससे आगे जंगलिया गांव तक लगभग 15 किमी के क्षेत्र का रखरखाव प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क विभाग करता है। इस मोटर मार्ग का निर्माण 1970 में शुरू हुआ। मार्ग को बबियाड़ तक मिलना था पर जंगलियागांव तक ही मिल पाया। पूर्व बीडीसी मेंबर उमेश पलड़िया, पूर्व प्रधान शांति पलड़िया समेत कई अन्य ग्रामीणों ने दोनों विभागों से अपने-अपने क्षेत्र में मानकों के मुताबिक लोहे और सीमेंट के पैराफिट बनाने की मांग की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस