संवाद सहयोगी, बाजपुर : देवी जागरण में शामिल होने जा रहे बाइक सवार दो युवकों की मौत हो गई। पुलिस ने पंचनामा भरकर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। ग्राम बेरिया दौलत निवासी 21 वर्षीय राहुल पुत्र सुक्कू ङ्क्षसह व 22 वर्षीय मुकेश पुत्र विशन ङ्क्षसह उर्फ प्रेम ङ्क्षसह गुरुवार की रात ग्राम भीमकपुरी में आयोजित देवी जागरण में शामिल होने जा रहे थे। बताया जाता है कि रात करीब 10 बजे बरहैनी-बन्नाखेड़ा मार्ग पर ग्राम खंबारी के नजदीक रेता से भरी बैलगाड़ी से उनकी बाइक की टक्कर हो गई। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए।

बन्नाखेड़ा चौकी की पुलिस ने 108 एंबुलेंस वाहन सेवा से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया। जहां से चिकित्सकों ने उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद हल्द्वानी सुशीला तिवारी रेफर कर दिया। इनमें एक युवक ने सरकारी अस्पताल में ही दम तोड़ दिया, जबकि दूसरे की मौत हल्द्वानी में उपचार के दौरान हो गई है। अचानक हुए इस हादसे की जानकारी से स्वजनों में कोहराम मच गया। पुलिस ने पंचनामा भरकर दोनों शवों का पोस्टमार्टम कराकर स्वजनों के सुपुर्द कर दिए हैं। मंडी समिति अध्यक्ष रामचंद्र ने बताया कि देर सायं दोनों युवकों का गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार करने की तैयारी की जा रही है।

रावण परिवार की अस्थि को बेकाबू हुई भीड़

रुद्रपुर: रावण परिवार के पुतले दहन के बाद भीड़ उनकी अस्थि लेने के लिए बेकाबू हो गई। शुक्रवार शाम सात बजे गांधी पार्क में रावण परिवार का पुतला दहन किया गया। पुतला दहन होने के बाद मौजूद भीड़ रावण परिवार की अस्थि लेने के लिए उमड़ पड़ा। इस दौरान हुई धक्का मुक्की में कई लोग गिरे भी। यह देख पुलिस कर्मियों ने उन्हें रोकने का प्रयास किया लेकिन सफलता नहीं मिली। बाद में लोग रावण परिवार की अस्थि लेकर अपने घरों को चले गए। मान्यता है कि रावण परिवार के अस्थि अपने घरों में रखने से रोग और दरिद्रता दूर होते हैं। अस्थि घर में रखने से परिवार में खुशियां और धन दौलत आती है।

कई बच्चे हुए गायब, मिले

रुद्रपुर: रावण परिवार के पुतला दहन को देखने के लिए गांधी पार्क में हजारों की संख्या में लोग आए हुए थे। इस दौरान कुछ लोगों के बच्चे भीड़ में खो गए। जिस पर उन्होंने उनकी खोजबीन की, साथ ही रामलीला कमेटी को मामले से अवगत कराया। जिसके बाद मंच से घोषणा कर खोए हुए बच्चों को बरामद कर स्वजनों के सुपुर्द किया गया।

Edited By: Prashant Mishra