जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : हिमालय के मस्तक स्वरूप पंचाचूली की पर्वत श्रृंखला के सफेद परिदृश्य पर कुमाऊं के पारंपरिक परिधान ओढ़कर थिरकते कलाकार। मेरा मुनस्यारा मेरा जोहारा., ऐजा मेरा दानपुरा. जैसे गीतों पर थिरकते कदम। रविवार शाम यह नजारा था हल्द्वानी के एमबी इंटर कॉलेज मैदान में आयोजित जोहार महोत्सव में। उत्तराखंड के नए-पुराने कलाकारों की जुगलबंदी ने लोक उत्सव का ऐसा रंग जमाया कि दर्शक रात तक थिरकने को मजबूर हो गए।

जोहार सांस्कृतिक एवं वेलफेयर सोसायटी (जेएसडब्ल्यूएस) की ओर से आयोजित दसवें जोहार महोत्सव में आखिरी शाम गायक प्रह्लाद मेहरा ने उत्तराखंडी लोक संगीत की मधुर धुन छेड़ी तो सुनने वाले मानो अपने ही अतीत में डूबते चले गए। 'ऐजा मेरा दानपुरा, छबीलो मायालो रंगीला मेरा दानपुरा.' गीत से प्रह्लाद मेहरा ने ऐसी नराई (याद) जगाई कि जैसे खुद से दूर हो गए लोगों को पहाड़ अपनी तरफ बुला रहा हो। छपेली गीतों पर लोगों ने जमकर डांस किया। गायक गजेंद्र राणा ने बबली तेरो मोबाइल. गीत से युवाओं की स्माइल जीती। खुशी दिगारी ने हाय ककड़ी झील मा. और बिन्नी महर ने स्वर्ग तारा जुन्याली रात. गीत की प्रस्तुति से माहौल में रंगत घोली।

गायक चंद्रप्रकाश ने काकड़ खै जाए चीरा छपेली गीत से युवा कदमों को थिरकाया। उभरते गायक राकेश खनवाल ने पार भिड़ै की बसंती छोरी रुमाझुमा. गीत की प्रस्तुति दी। मेयर डॉ. जोगेंद्र रौतेला व कालाढूंगी विधायक बंशीधर भगत ने बतौर अतिथि आयोजन में शिरकत की। इस दौरान जेएसडब्ल्यूएस के संरक्षक गजेंद्र पांगती, अध्यक्ष देवेंद्र धर्मशक्तू, महासचिव भूपेंद्र पांगती, संयोजक नवीन टोलिया, सीएस मर्तोलिया, कैलाश धर्मशक्तू, केदार बृजवाल आदि शामिल रहे।

::::::::::::::::

संस्कृति पर प्रश्नोत्तरी का आयोजन

महोत्सव में जोहार की संस्कृति, इतिहास पर क्विज प्रतियोगिता आयोजित की गई। कृतिका मर्तोलिया ने 49.5 अंकों के साथ पहला, पीहू नित्वाल ने 49 अंकों के साथ दूसरा, मिहिका पांगती ने 46.5 अंकों के साथ तीसरा स्थान प्राप्त किया।

:::::::::::

चित्रकला में इन्होंने मारी बाजी

नर्सरी से कक्षा दो : शौर्य बुर्फाल, कार्तिकेय जंगपांगी, अर्नव पांगती

कक्षा तीन से पांच : दिव्यांशी बृजवाल, गगनदीप धर्मशक्तू, तारा मेहता

कक्षा छह से आठ : अनंत साह, तनुश्री पटवाल, हर्षिता टोलिया

कक्षा नौ से बारह : रिया वर्ती, पलक धपोला, सिद्धि साह

:::::::::::::::

जोहारी बोली-भाषा क्विज के विजेता

प्रथम : लता पांगती, दमयंती धर्मशक्तू, हीरा पांगती

द्वितीय : कमला पांगती, बसंती टोलिया, कल्पना मर्तोलिया

तृतीय : हीरा जंगपांगी, अनीता पांगती, ज्योति धर्मशक्तू

:::::::::::::

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस