हल्द्वानी, जेएनएन : पंचायत चुनाव को लेकर अब सरगर्मियां तेज हो चुकी है। फोकस ब्लॉक प्रमुख की सीट पर ज्यादा है। इसके लिए क्षेत्र पंचायत सदस्यों को किसी तरह अपने पाले में करने की होड़ मची हुई है। ब्लॉक प्रमुख के दावेदारों में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष के अलावा सत्ताधारी दल के एक बड़े नेता की रिश्तेदार का नाम भी सुर्खियों में है। हल्द्वानी में 57 साल में पहली बार ऐसा होगा कि एक एससी महिला को ब्लॉक प्रमुख बनने का मौका मिलेगा। विकासखंड में क्षेत्र पंचायत सदस्य की 38 सीटों पर चुनाव के जरिये हार-जीत तय होगी। जबकि एक पर निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है।

पिछले कार्यकाल में कांग्रेस की झोली में आई यह सीट बाद में भाजपा के पास पहुंच गई थी। भाजपा व कांग्रेस के पंचायत चुनाव के रणनीतिकार ने मतदान के बाद से प्रत्याशियों की हार-जीत का समीकरण लगाना शुरू कर दिया था। सूत्रों की माने तो मजबूत उम्मीदवारों से चर्चा कर उन्हें अपने पाले में लाने का प्रयास भी किया जा रहा है। 21 अक्टूबर को मतगणना खत्म होने के बाद दोनों दल जीते उम्मीदवारों को अपने पाले में करने के लिए नए सिरे से रणनीति बनाने में जुटेंगे।

133 टेबलों पर 665 मतगणना अधिकारी गिनेंगे वोट

भीमताल : त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के नतीजे सोमवार सुबह साढ़े आठ बजे से आने शुरू हो जाएंगे। आयोग द्वारा निर्धारित स्थल पर ही मतगणना होगी। विकासखंड धारी, रामगढ़ तथा भीमताल में मतगणना का कार्य विकासखंड सभागार जबकि विकासखंड बेतालघाट में आदर्श इंटर कालेज बेतालघाट, हल्द्वानी विकासखंड में एचएन इंटर कालेज हल्द्वानी, कोटाबाग विकासखंड में राजकीय इंटर कालेज कोटाबाग तथा विकासखंड रामनगर की मतगणना का कार्य तहसील रामनगर में किया जाएगा। इसी तरह जिला पंचायत सदस्यों की मतगणना का कार्य संबधित विकासखंड के मतगणना स्थल पर कराया जाएगा। भीमताल और कोटाबाग में मतगणना के लिए 14 -14 टेबल, रामगढ़ में 11, हल्द्वानी में 28 तथा रामनगर में 24 टेबल लगाई जाएंगी। पूरे जनपद में 133 टेबल लगेंगी और इनमें 762 मतदान स्थलों की गणना की जाएगी। प्रत्येक टेबल में पांच कर्मचारी मतों की गिनती करेंगे। इस तरह पूरी मतगणना का भार 665 मतगणना अधिकारियों पर होगा।

पहले ग्राम प्रधानों के नतीजे आने लगेंगे। उसके बाद सदस्य ग्राम पंचायत और अंत में सदस्य क्षेत्र पंचायत के रिजल्ट आएंगे। जिला पंचायत के सदस्यों की गिनती भी ब्लॉक में होगी पर उसके नतीजों की घोषणा आरओ जिला पंचायत करेंगे। वहीं निर्वाचन अधिकारियों को मतगणना के समय विशेष सतर्कता बरतनी होगी। सवेरे 8 बजे से मतगणना प्रारंभ होगी और सवा आठ बजे से नतीजे आने लगेंगे।

यह भी पढ़ें : बस की बैट्री में शाॅट सर्किट से मतपेटी, अब दोबारा कराया जाएगा चुनाव

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस