रुद्रपुर, जेएनएन : ऑटो सेक्टर की मंदी से परेशान कंपनियां मुश्किल दौर से गुजर रही हैं। अशोक लीलैंड कंपनी ने सितंबर में अपने प्लांट्स में 5 से 18 दिन तक कामकाज बंद रखने के बाद अब फिर 18 दिनों के लिए सट डाउन कर दिया है। हांलकि इसका कारण नहीं बताया गया है, लेकिन चर्चा है कि कंपनी ने मांग में कमी के कारण उत्‍पादन ठप किया है। रुद्रपुर के साथ ही कंपनी देश के अपने सभी प्लांटों में कामकाज के दिन घटा रही है। कंपनी अपना उत्पादन पांच अक्टूबर से 22 अक्टूबर तक बंद रखेगी। जानकारी कंपनी के डिप्टी डायरेक्टर ने श्रम उपायुक्त कार्यालय में पत्र के माध्यम से सूचना दी है।

सहायक श्रमायुक्त प्रशांत कुमार ने बताया कि मंगलवार को कंपनी प्रबंधन के माध्यम डिप्टी डायरेक्टर का पत्र के माध्यम से सूचना मिली है कि कंपनी का सट डाउन रहेगा। अवधि में रविवार और अवकाश के दिनों को हटा दिया जाए तो कुल 14 दिन कंपनी का उत्पादन ठप रहेगा। वहीं कंपनी सट डाउन के समय अवधी का भुगतान श्रमिकों के अवकाश को एडजस्ट कर करेगी और जरूरत पडऩे पर उनसे ओवरटाइम कराएगी। ताकि श्रमिकों के वेतन में कटौती न हो सके। कंपनी का उत्पादन पुन: 23 अक्टूबर बुधवार से शुरू कर दिया जाएगा।

गिर गई अशोक लीलैंड की बिक्री

अशोक लीलैंड मुख्यत: कॉमर्श‍ियल वाहनों का उत्पादन करती है। कंपनी की कुल बिक्री अगस्त में 47 प्रतिशत घटकर 9,231 वाणिज्यिक वाहन रही। पिछले साल इसी माह में कंपनी ने 17,386 वाहन की बिक्री की थी. कंपनी ने एक बयान में बताया कि मध्यम एवं भारी वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री इस माह में 5,349 इकाई रही।

ऑटो इंडस्ट्री का संकट कम नहीं हो रहा

ऑटो इंडस्ट्री लगातार बुरे दौर से गुजर रही है। बीते 10वें महीने व्हीकल्स के प्रोडक्शन और सेल्स में गिरावट देखने को मिल रही है। कारों और अन्य वाहनों की बिक्री में गिरावट का सिलसिला लगातार 10 महीने से जारी है। अगस्त में भी कारों की बिक्री में 29 फीसदी की भारी गिरावट आई है। 

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस