चम्पावत, जेएनएन : चंपावत जिले के पाटी ब्लॉक की चौड़ाकोट ग्राम पंचायत सीट पर हार-जीत का अंतर एक वोट का रहा। हारे प्रत्याशी ने टेंडर वोट खोलने की मांग की, जिसे आरओ ने अस्वीकार कर दिया। प्रत्याशी के एजेंटों के रवैये से मतगणना केंद्र पर कुछ देर के लिए गहमागहमी की स्थिति रही। सूत्रों का कहना है कि इस संबंध में लोहाघाट विधायक ने भी एडीएम से फोन पर जानकारी ली। जिसके बाद एडीएम पाटी के लिए रवाना हुए।

इस सीट से प्रधान पद के प्रत्याशी आशा मौनी ने ममता मौनी को एक वोट वे हराया। आशा को 169 तथा ममता को 168 वोट पड़े। एक वोट से चुनाव हारने के बाद रिकाउंटिंग कराई गई लेकिन मतों में कोई अंतर नहीं हुआ, जिसके बाद पराजित प्रत्याशी और उसके एजेंटों ने एक मात्र पड़े टेंडर वोट खोलने की मांग शुरू कर दी। मतगणना केन्द्र में हंगामा बढ़ता देख एडीएम टीएस मर्तोलिया मौके पर पहुंचे और उन्होंने मतदान रद्द करने की हारे हुए प्रत्याशी की मांग को अस्वीकार कर दिया। हारी हुई प्रत्याशी लोहाघाट के विधायक पूरन सिंह फत्र्याल की रिेश्तेदार बताई जा रही है। सूचना के बाद विधायक ने भी आरओ से बात की। आरओ ने बताया कि टेंडर वोट नहीं खोले जाते, इसलिए इस मांग को अस्वीकार कर दिया गया।

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस