हल्द्वानी, जागरण संवाददाता : Agniveer Bharti Rally 2022 : उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में अग्निवीरों की भर्ती को लेकर तैयारी पूरी हो चुकी है। कुमाऊं रेजीमेंट केंद्र रानीखेत (Kumaon Regiment Center Ranikhet) में अग्निवीर भर्ती रैली के लिए सेना की ओर से भर्ती कार्यक्रम जारी कर दिया गया है।

अग्निवीर जीडी, अग्निवीर तकनीकी, अग्निवीर क्लर्क/स्टोर कीपर और अग्निवीर ट्रेडमैन के पदों के लिए 20 से 31 अगस्त तक रानीखेत में सेना के सोमनाथ मैदान में कुमाऊं मंडल की सभी जिलों की तहसीलवार भर्ती होगी। भर्ती थल सेना कार्यालय अल्मोड़ा की ओर से संपन्न कराई जाएगी।

Agniveer Bharti Rally कार्यक्रम

  • 20 अगस्त को अग्निवीर ट्रेडमैन के पदों के लिए अल्मोड़ा, बागेश्वर, नैनीताल व ऊधमसिंहनगर की जिलों की सभी तहसीलों की भर्ती आयोजित की जाएगी।
  • 21 अगस्त को अल्मोड़ा, बागेश्वर नैनीताल व ऊधमसिंहनगर जनपदों की समस्त तहसीलों की भर्ती आयोजित की जाएगी।
  • 22 अगस्त को बागेश्वर जिले की सभी तहसीलों की भर्ती आयोजित होगी।
  • 23 अगस्त को नैनीताल जनपद की रामनगर, हल्द्वानी, कालाढूंगी, लालकुआ तहसीलों की भर्ती होगी।
  • 24 अगस्त को नैनीताल जिले की नैनीताल जिले की धारी, कोश्याकुटोली, बेतालघाट, नैनीताल तहसीलों की भर्ती होगी।
  • 25 अगस्त को अल्मोड़ा जनपद जनपद के भिकियासैंण, चौखुटिया, द्वाराहाट, सल्ट की भर्ती होगी।
  • 26 अगस्त को अल्मोड़ा के अल्मोड़ा, रानीखेत, लमगड़ा की भर्ती आयोजित होगी।
  • 27 को अल्मोड़ा जिले के ही जैंती, सोमेश्वर, स्याल्दे व भनोली तहसीलों की भर्ती होगी।
  • 29 अगस्त को ऊधमसिंहनगर जिले के बाजपुर, काशीपुर, जसपुर, किच्छा की भर्ती होीग।
  • 30 अगस्त को ऊधमसिंहनगर के गदरपुर, सितारगंज व खटीमा तहसीलों के युवाओं की भर्ती होगी।

अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र जारी

सैन्य अधिकारियों के अनुसार सभी अभ्यर्थियों को प्रवेशपत्र जारी कर दिए गए हैं, बगैर प्रवेशपत्र के भर्ती स्थल पर प्रवेश नहीं दिया जाएगा। साथ ही सैन्य अधिकारियों ने भर्ती के नाम पर ठगी करने वालों और दलालों से सावधान रहने की भी अपील की है।

टायर के अभाव में कैसे जाएंगी बसें

रानीखेत में युवाओं के लिए अग्निवीर भर्ती शुरू होने के साथ ही बड़ी संख्या में युवा जाएंगे। ऐसे में परिवहन निगम की बसों पर भी दबाव बढ़ेगा। लेकिन छोटे टायरों के अभाव में रोडवेज अभ्यर्थियों को कैसे सफर करवाएगा, इसे लेकर सवाल खड़ा हो चुका है। टायर संकट को मुख्यालय स्तर से गंभीरता से नहीं लिया गया। काठगोदाम डिपो के एआरएम ने भी भर्ती का हवाला देकर उच्चधिकारियों को पत्र भेजा है।

यह भी पढ़ें : पिथौरागढ़ और चम्पावत में अग्निवीरों की भर्ती का आ गया पूरा शेड्यूल, यहां देखें 

Edited By: Skand Shukla