जागरण संवाददाता, नैनीताल। शहर के तल्लीताल क्षेत्र में होटल लीज पर लिए होटल को दोबारा होटल स्वामी द्वारा कब्जा कर लेने का मामला सामने आया है। लीज धारक महिला ने स्वामी पर कई आरोप लगाते हुए कोतवाली में शिकायती पत्र सौंपा है। शिकायत के आधार पर कोतवाली पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक भाभर हॉल तल्लीताल निवासी संध्या शर्मा ने तहरीर देकर कहा है कि उसके द्वारा तल्लीताल क्षेत्र में एक होटल को एक फरवरी से 31 दिसंबर 2021 तक के लिए 17 लाख रुपए में लीज पर लिया गया था। तय सौदे के अनुसार वह होटल स्वामी को चेक और कैश के माध्यम से अब तक 17 लाख रुपए दे चुकी है। बीच में वह कोरोना संक्रमित हुई तो होटल स्वामी ने अप्रैल माह में होटल की चाबी उससे ले ली। अब पैसा लेने के बाद भी होटल स्वामी उससे लीज कैंसिल करने की बात कर रहा है।

स्वामी द्वारा द्वारा होटल में कब्जा कर लेनदेन की सभी दस्तावेज भी गायब कर दिए हैं। साथ ही उसे धमकी दी जा रही है कि यदि वह होटल में दोबारा आई तो कुछ भी हो सकता है। महिला ने मामले में कार्रवाई की मांग की है। कोतवाल अशोक कुमार सिंह ने बताया कि शिकायत के आधार पर फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। सामने आए तथ्यों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

दवाइयों का ओवरडोज लेने से युवती की हालत बिगड़ी

नैनीताल। मानसिक रोग से ग्रसित भवाली निवासी एक युवती ने दवाइयों की ओवरडोज ले ली। जिससे उसकी हालत बिगड़ पड़ी। परिजन युवती को बीडी पांडे अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे हल्द्वानी रेफर कर दिया गया। जानकारी के मुताबिक भवाली निवासी 24 वर्षीय कंचन भट्ट मानसिक रोग से ग्रसित है। जिसके लिए वह नियमित तौर पर दवाइयों का सेवन करती है। शुक्रवार रात कंचन ने नियमित लेने वाली मात्रा से कई अधिक दवाइयों का सेवन कर लिया। जिससे उसकी हालत बिगड़ गई। शनिवार सुबह जब परिजनों ने कंचन को बिस्तर पर बेसुध पड़े हुए देखा तो तुरंत उसे लेकर बीडी पांडे अस्पताल पहुंचे। जहां करीब एक घंटे तक उपचार के बावजूद वह होश में नहीं आयी। डॉ शौरिन धूलिया ने बताया कि दवाइयों के अधिक सेवन के कारण मरीज के शरीर में ऑक्सीजन की कमी हो गई थी। साथ ही उपचार के बावजूद होश में नहीं आने के कारण उसे हल्द्वानी रेफर कर दिया गया।

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Prashant Mishra