अल्मोड़ा, जागरण संवाददाता : डेनमार्क में हो रही बैडमिंटन की अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में अदिति भट्ट ने अपना लोहा मनवाया। खेल की बारीकिया समझने वाले लोग अब अदिति को बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु और साइना नेहवाल की तरह ही उभरती हुई स्टार खिलाड़ी मानने लगे हैं। उबर कप में वह वल्र्ड रेंकिंग में 13वें नंबर की स्टलर से क्वाटर फाइनल में पराजित हुई।

डेनमार्क में 9 से 17 अक्टूबर तक थामस व उबर कप बैंडमिंटन प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। इस अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में भारतीय टीम बैंडमिंटन स्टार पीवी सिंधु और साइना नेहवाल की अनुपस्थिति में खेल रहा था। किसी को टीम से ज्यादा उम्मीद इस बार नही थी। लेकिन अदिति भट्ट ने एकल में बेहतरीन प्रदर्शन कर सबका ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया और वह स्टार खिलाड़ी बनकर उभरी। बैडमिंटन खिलाड़ी अदिति को भविष्य का स्टार मान रहे हैं। उनके बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत भारतीय बैडमिंटन टीम ने 5 साल के बाद क्वार्टर फाइनल तक का सफ़र तय किया।

अदिति भट्ट ने अपने पहले मुकाबले में स्पेन को 3-2 से हराया। अदिति ने महिला एकल में स्पेन की अनिया सेटरेन को सीधे सेटों में 21-16 व 21-14 से पराजित किया। दूसरे मैच में भारत ने स्कॉटलैंड को 4-1 से हराकर क्वार्टर फाइनल में स्थान बनाई। इस मैच में भी आदिती ने ज़बरदस्त प्रदर्शन करते हुए स्कॉटलैंड की राचेल सुगदेन को आसानी से 21-14 व 21-8 से हराया।

क्वार्टर फाइनल में भारतीय टीम की थाईलैंड से 5-0 से पराजित हो गई। हारने के बावजूद अदिती ने अपने एकल मैच में ज़बरदस्त संघर्ष किया। अदिती वल्र्ड की टाप 13 में शामिल खिलाड़ी बुसानन से 16 -21,21-18 व 15 -21 से तीन सेटों में हारी। अदिति के शानदार प्रदर्शन पर राज्य बैडमिंटन संघ,सचिव बीएस मनकोटी, जिला क्रीड़ाधिकारी सीएल वर्मा आदि ने उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है। उन्होंने कोच डीके सेन व अदिती के माता पिता को बधाई भी दी।

जूनियर डबल में एक व सिंगल में तीसरे नंबर पर

अदिति मूलरूप से अल्मोड़ा जिले की द्वाराहाट की रहने वाली है। वह वर्तमान में दिल्ली से ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहीं हैं। बीते सितंबर माह में हैदराबाद में हुई ट्रायल में उन्होंने शानदार प्रदर्शन कर भारतीय सीनियर टीम में अपना स्थान पक्का किया था। अदिति जूनियर में युगल वर्ग में देश की नंबर एक व एकल में तीसरे नंबर की खिलाड़ी थी।

Edited By: Skand Shukla