जागरण संवाददाता, रुद्रपुर (ऊधमसिंह नगर) : क्रेडिट कार्ड का ड्यू पेमेंट जमा करने के लिए बैंक का टोल फ्री नंबर गूगल पर सर्च करना आवास विकास निवासी महिला को महंगा पड़ गया। आरोप है कि इस दौरान बैंक कस्टमर केयर अधिकारी बनकर एक युवक ने उनसे एनीडेस्क एप डाउनलोड करने को कहा। जिसके बाद उनके खाते से 21.49 लाख पार कर लिए गए। मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। एनीडेस्क एप से आपका लैपटॉप, मोबाइल आदि रिमोट से एक्सेस हो जाता है। इसे किसी अन्जान के कहने पर डाउनलोड न करें।

आवास विकास निवासी मीनाक्षी साहनी ने सौंपी तहरीर में कहा था कि उसके पति गगन साहनी अपने पिता के इलाज के लिए दिल्ली गए हुए थे। इस दौरान उन्होंने उससे आइमोबाइल एप से उनके क्रेडटि कार्ड की ड्यू पेमेंट जमा करने को कहा। जब आइमोबाइल एप ने काम नहीं किया तो उसने गूगल पर आइसीआइसीआइ बैंक का टोल फ्री नंबर सर्च किया। जहां उसे एक मोबाइल नंबर मिला। जब उसने कॉल किया तो एक युवक ने खुद को बैंक का कस्टूमर केयर अधिकारी बताया। कहा कि एनी डेस्क एप डाउनलोड कर लो। साथ ही उससे एक नंबर पर कॉल डायल करवाया। कुछ समय बाद उनके मोबाइल पर रुपये कटने संबंधित मैसेज आने लगे। पति को मामले से अवगत कराया तो उन्होंने आइसीआइसीआइ बैंक से जानकारी ली। इस दौरान पता चला कि उनके खाते से 50000 का ट्रांजेक्शन हुआ है और डेबिट कार्ड से 2099900 रुपये निकाले गए हैं। इस पर मीनाक्षी ने पुलिस से कार्रवाई की मांग की थी। मामले में पुलिस ने अज्ञात साइबर ठगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

तमंचे के साथ रम्पुरा का किशोर गिरफ्तार

शौकिया तौर पर तमंचा लेकर घूम रहे रम्पुरा निवासी किशोर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बाद में पुलिस ने उसके खिलाफ आर्म्स एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया। गुरुवार रात कोतवाली पुलिस गश्त पर थी। इसी बीच सूचना मिली कि रम्पुरा में एक किशोर संदिग्ध रूप से घूम रहा है और उसके पास तमंचा है। सूचना पर एसआइ महेंद्र प्रसाद पुलिस कर्मियों के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस को देख एक किशोर भागने लगा। शक होने पर पुलिस कर्मियों ने उसका पीछा कर दबोच लिया। तलाशी में उसके पास से पुलिस को एक तमंचा भी बरामद हुआ। पुलिस पूछताछ में उसने बताया कि वह रम्पुरा में रहता है। पुलिस ने तमंचा कब्जे में लेकर उसे हिरासत में ले लिया और आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया। एसएसआइ सतीश चंद्र कापड़ी ने बताया कि तमंचे के साथ पकड़ा गया किशोर शौकिया तौर पर लेकर घूम रहा था। बताया कि उस पर पहले भी कोतवाली में मारपीट का एक केस दर्ज है।

Edited By: Prashant Mishra