हल्द्वानी, जेएनएन : कांग्रेस जिलाध्यक्ष, महानगर अध्यक्ष के अलावा कांग्रेसी पार्षदों समेत 18 लोगों के खिलाफ पुलिस ने बगैर अनुमति जुलूस निकालने व आपदा एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया। एक दर्जन लोगों को अज्ञात में शामिल किया गया। जिन्हें चिन्हित किया जा रहा है। देहरादून व रुद्रपुर के बाद अब हल्द्वानी में भी प्रदर्शन की वजह से कांग्रेसियों को पुलिस की कार्रवाई का सामना करना पड़ा।

नगर निगम को घपलों का अड्ढा बताते हुए शनिवार से महानगर कांग्रेस के आहृवान पर बुद्ध पार्क में धरना चल रहा था। कांग्रेसियों का कहना था कि लॉकडाउन के दौरान शहर में दवा छिड़काव, राशन वितरण व अन्य बचाव कार्यों को लेकर जमकर धांधली की गई। पेंट से बनाए गोलों तक में वित्तीय अनियमितता की गई। इसके अलावा निगम के कब्जे वाली दुकानों के ट्रांसफर को लेकर भी करोड़ों का घोटाला किया गया। लिहाजा, न्यायिक जांच होनी चाहिए।

 

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत गुरुवार सुबह साढ़े 11 बजे करीब कांग्रेसी एआइसीसी सदस्य सुमित हृदयेश व महानगर अध्यक्ष राहुल छिमवाल के नेतृत्व में बुद्ध पार्क से जुलूस निकालते हुए नगर निगम गेट पर पहुंच गए। जहां निगम प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। वहीं, दोपहर में धरना स्थगित भी कर दिया गया, लेकिन रात में कोतवाली में 18 नामजद व 12 अज्ञात के खिलाफ बगैर अनुमति जुलूस निकालने, जाम लगाने व आपदा एक्ट की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया गया। भोटिया पड़ाव चौकी इंचार्ज पीएस नगरकोटी ने बताया कि वीडियो व फोटो के आधार पर अन्य को भी चिन्हित किया जा रहा है।

 

यह नामजद

जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल, महानगर अध्यक्ष राहुल छिमवाल, पार्षद नरेंद्र रोडू, हेमंत शर्मा मोना, महेश चंद्रा, रोहित, गुफरान, राजेंद्र जीना, रवि जोशी, गुड्डु वारसी के अलावा ध्रुव कश्यप, पूर्व सभासद शकील सलमानी, तस्लीम, राजू रावत, वरुण भाकुनी, नवीन पांडे, तौफीक, पिन्नू आर्य पर नामजद मुकदमा किया गया है।

 

हरदा व प्रीतम पर भी हुआ था मुकदमा

लॉकडाउन व अनलॉक सीजन के दौरान महंगाई व अन्य मुद्दों पर प्रदर्शन करना कांग्रेसियों को मुश्किल में डाल रहा है। इससे पूर्व दून में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह समेत 150 लोगों पर केस दर्ज किया गया था। इसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत पर भी मुकदमा हुआ। अब हल्द्वानी में भी प्रदर्शन करने पर कांग्रेसियों को पुलिस कार्रवाई का सामना करना पड़ा।

 

भड़के कांग्रेसी

नगर निगम गेट पर प्रदर्शन करने की वजह से मुकदमा दर्ज होने को कांग्रेसियों ने सरकार की साजिश बताया। कहा कि दबाव में आकर पुलिस एकतरफा कार्रवाई कर रही है। यूथ कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष गुरप्रीत सिंह प्रिंस ने कहा कि आज बुद्ध पार्क में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया जाएगा।

 

भोटिया पड़ाव चौकी इंचार्ज की तहरीर पर 18 नामजद व 10-12 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। अज्ञात को चिन्हित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

कश्मीर सिंह, एसएसआई

 

वीडियो से सुमित हृदयेश भी चिन्हित

सड़क जाम व बगैर अनुमति रैली व प्रदर्शन करने के मामले में वीडियो व फोटोग्राफी के माध्यम से पुलिस नेता प्रतिपक्ष के पुत्र व एआइसीसी सदस्य सुमित हृदयेश को भी चिन्हित कर चुकी है। पहली नामजद सूची में यह नाम नहीं था। भोटिया पड़ाव चौकी इंचार्ज व मुकदमे के विवेचक पीएस नगरकोटी ने बताया कि विवेचना में और नाम भी शामिल होंगे। वहीं, यह मामला अब राजनैतिक रंग ले चुका है।

यह भी पढ़ें

बाबा रामदेव की मुसीबतें बढ़ीं, हाईकोर्ट ने कोरोना की दवा कोरोन‍िल मामले में जारी किया नोटिस 

नैनीताल में बेकाबू हुई कार ने दो अधिवक्ताओं समेत पांच लोगों को जख्मी किया, पांच बाइक क्षतिग्रस्त 

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस