हल्द्वानी, जेएनएन : सोशल मीडिया पर हल्द्वानी की मटर गली सील करने की अफवाह से सोमवार को बाजार में सन्नाटा पसरा रहा। सोशल मीडिया पर झूठी सूचना फैलाकर लोगों के अंदर डर पैदा कर दिया गया। ऐसे में खरीदारी करने के लिए लोग घर से नहीं निकले। जिसके चलते मटर गली के कारोबारी पूरे दिन दुकानों पर खाली बैठे रहे।

दरअसल, रविवार को एक निजी अस्पताल में बुजुर्ग की कोरोना से मौत हो गई थी। वहीं, मृतक के बेटे की मटर गली में एक कपड़े की दुकान है। ऐसे में मटर गली एसोसिएशन को मृतक की सूचना मिलने पर रविवार को सभी दुकानें बंद करा दी गईं। व्यापारियों का कहना है कि प्रशासन के आदेशानुसार सभी दुकानें खोली गईं। कुछ अराजक तत्व के चलते मटर गली सील करने की झूठी अफवाह फैला दी। इस कारण लोखरीदारी करने के लिए नहीं आए। कोरोना में तो पूरा कारोबार चौपट हो जा रहा है।

 

दलजीत सिंह दल्ली, अध्यक्ष, मटर गली एसोसिएशन ने बताया कि यूनियन के नियमानुसार किसी व्यापारी व उसके परिवार के निधन पर मटर गली को पूर्ण रूप से बंद कराया जाता है। लेकिन सोशल मीडिया पर दुकानें बंद करने की अफवाह से कारोबार चौपट हो गया।

 

मनीष वर्मा, कपड़ा कारोबारी, मटर गली का कहना है कि बाजार खुलने के बाद ग्राहक वैसे ही दुकानों पर जाने से परहेज कर रहे हैं। ऊपर से ऐसे में झूठी खबर फैलाकर लोगों में भ्रम की स्थिति बनाई जा रही है। इससे कारोबार में काफी घाटा हो रहा है।

 

पंकज गुप्ता, कपड़ा कारोबारी, मटर गली का कहना है कि कोरोना से कपड़ा कारोबारी के पिता की मृत्यु से लोगों में भय फैला हुआ है। लोग बाजार आने से कतरा रहे हैं। ऐसे में क्षेत्र के पार्षद द्वारा बाजार को पूरी तरह सैनिटाइज कराना चाहिए। 

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस