हल्द्वानी, जेएनएन : चंपावत के रीठा साहिब थाने से आई पुलिस टीम हैड़ाखान के एक किशोर को कार में बैठाकर ले जाने लगी तो ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। हो हल्‍ला मचा तो ग्रामीणों ने फोन पर आगे के गांव वालों, जनप्रतिनिधियों व पुलिस-प्रशासन को घटना के बारे में बताया। अपहरण की आशंका से अलर्ट होते हुए रोशिल गांव के लोगों ने कार को रोक लिया। उन्‍होंने गांव में ही रातभर पुलिस कर्मियों को बैठाए रखा। वहीं पुलिस वालों का कहना है कि किशोर स्‍मैक तस्‍करी का आरोपित है। वे उसे ही पकड़ने आए थे। वहीं घटना से आक्रोशित रोशिल के ग्रामीणों ने जाम लगा कर रोष जताया। सूचना पर पुलिस-प्रशासन मौके पर पहुंचा है।

ग्रामीणों ने सड़क पर अपने वाहन खड़े कर रोका पुलिस वालों को

हैड़ाखान निवासी किशोर 12वीं का छात्र है। ग्रामीणों के मुताबिक रविवार रात करीब नौ बजे वह अपने कुछ दोस्तों के साथ सड़क पर टहल रहा था। इसी दौरान एक कार से कुछ लोग आए और किशोर को कार में बैठाकर हल्द्वानी की ओर ले जाने लगे। अपहरण की सूचना पर ग्रामीणों ने आसपास के जनप्रतिनिधियों के फ़ोन घनघनाने शुरू कर दिए। रोशिल गांव के पास लोगों ने अपने वाहन सड़क पर खड़ा कर कार रुकवा ली। ग्रामीणों के मुताबिक रात में ही घटना की जानकारी पुलिस और प्रशासन को दे दी गई थी। लेकिन कोई नहीं आया।

सुबह ग्रामीणों ने जाम लगाकर किया हंगामा

सुबह ग्रामीणों ने सड़क जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। इसके बाद काठगोदाम थाना पुलिस और राजस्व विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुँचे। प्राथमिक जांच में पुलिस को कार सवार रीठा साहिब थाने के जवान होने और स्मैक तस्करी के शक में किशोर को पकड़ने की जानकारी मिली है। पुलिस किशोर को कार में बैठने के सही कारणों का पता लगा रही है।

यह भी पढ़ें : गेंहू के खेत में ठंड में ठिठुर रहा था नवजात, रोने की आवाज सुन पहुंची महिला ने सीने से लगाया

यह भी पढ़ें : छात्रवृत्ति घोटाला मामले में यूपी के छह काॅलेजों के खिलाफ मिले साक्ष्य, भेजी रिपोर्ट

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस