काशीपुर, जेएनएन : लकड़ी तस्करों को पकड़ने गई वन विभाग की टीम पर तस्करों ने 10-12 राउंड फायर झोंक दिए। बचाव में वन कर्मियों की जवाबी फायरिंग की। तस्‍कर लकड़ी और अपने वाहन मौके पर छोड़कर फरार हो गए। गनीमत रही कि अंधेरे में हुई फायरिंग में कोई हताहत नहीं हुआ। वन कर्मियों ने 25 हजार कीमत के खैर की लकड़ी के 15 गिल्टे, बाइक और पिकअप बरामद कर ली है।

 

तड़के तीन बजे हुई वारदात

दक्षिणी जसपुर रेंज के वन क्षेत्राधिकारी बिजेंद्र कुमार अधिकारी ने बताया कि शनिवार तड़के करीब तीन बजे दक्षिणी जसपुर रेंज के शिवराजपुर बीट क्षेत्र में खैर वृक्षों के अवैध पातन की सूचना मिलने पर वन कर्मियों की टीम मौके पर गई और क्षेत्र की नाकाबंदी कर दी। अपने आप को घिरा देख अपराधियों ने वन कर्मियों पर 10 से 12 राउंड फायर झोंक दिए। करीब 15 मिनट हुई मुठभेड़ में आत्म सुरक्षा के लिए वन कर्मियों ने भी गोली चलाईं। वन तस्कर अंधेरे का लाभ उठाते हुए मौके से भागने में सफल रहे। वन कर्मियों ने मौके से खैर के 15 गिल्टों से लदी बोलेरो पिकअप वाहन व बाइक को कब्जे में ले लिया। गनीमत रही कि इस मुठभेड़ में कोई वनकर्मी हताहत नहीं हुआ। 

वन अधिनियम में मुकदमा दर्ज

रेंजर अधिकारी ने बताया कि अज्ञात आरोपितों के खिलाफ 26 वन अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मुठभेड़ के दौरान वन दरोगा मुकेश कुमार, वन दरोगा पुष्पेंद्र चौहान, वन दरोगा मुंशीराम प्रजापति, वनरक्षक अनिल कुमार चौहान, वनरक्षक महेंद्र, वनरक्षक मलकीत सिंह लाडी, वनरक्षक रवि कुमार शामिल रहे।

यह भी पढ़ें : स्नूकर सेंटर पर देर रात ताबड़तोड़ फायरिंग, गोलियों की आवाज सुन घरों से बाहर निकल आए सो रहे लोग

यह भी पढ़ें : सीमांत पिथौरागढ़ में दो माह में चार प्रसूताओं की अकाल मौत, सवालों के घेरे में स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस