रुद्रपुर, जेएनएन : कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य ने रुद्रपुर के बौर जलाशय को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाना खुद की प्राथमिकता बताया है। आर्य ने कहा यह तभी संभव है जब योजनागत तरीके से संसाधनों को विकसित किया जाए। उन्होंने कहा कि वह जल्द ही मुख्यमंत्री से मिलकर इसके लिए टिहरी की तर्ज पर पर्याप्त बजट स्वीकृत करने का आग्रह करेंगे।

 

पर्यटन स्‍थल की तरह होगा विकसित

परिवहन मंत्री ने बताया कि जिम कार्बेट पार्क, रामगढ़, मुक्तेश्वर, कौसानी, रानीखेत, नैनीताल की तर्ज पर देश के प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों में ऊधमसिंह नगर का बाजपुर, काशीपुर, बौर जलाशय भी शुमार हो सके, इसके लिए वह 2013 से लगातार प्रयासरत हैं। इसी को देखते हुए 2013  में उन्होंने राज्य पर्यटन विकास परिषद की बौर जलाशय वाटर एडवेंचर पार्क योजना के लिए 14 करोड़ रुपये की स्वीकृति भी दिलवाई थी। यह धनराशि एशियन डेवलपमेंट बैंक ने दी थी। इसके तहत यहां वाटर सर्फिंग, कैनोइंग, वाटर स्कूटर आदि साहसिक खेल प्रस्तावित थे। उस समय योजना में खेल उपकरणों की खरीद में 4.66 करोड़ खर्च हुए थे और एडवेंचर सेंटर के निर्माण में 9.33 करोड़ खर्च हुए थे। उस समय आर्य के प्रयास से राज्य पर्यटन विकास परिषद ने काशीपुर और बाजपुर के विकास के लिए भी वित्तीय स्वीकृति दी थी।

अंतरराष्ट्रीय स्‍तर पर पहचान दिलाने का प्रयास

यशपाल आर्य का कहना है कि अभी भी यह योजना पूर्ण रूप से मूर्त रूप नहीं ले पाई है। उन्होंने कहा कि वह जल्द ही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ङ्क्षसह रावत से मिलकर कहेंगे कि जिस तरह प्रदेश सरकार टिहरी झील में वाटर स्‍पोर्ट्स को बढ़ावा देकर उसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पर्यटन के बड़े केंद्र के रूप में विकसित करना चाहती है, उसी प्रकार बौर जलाशय को भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने की दिशा में प्रयास करे। यदि बौर जलाशय पर्यटन स्थल के रूप में प्रसिद्ध हो गया तो आसपास के क्षेत्रों में समृद्धि अपने आप आ जाएगी। यशपाल आर्य ने कहा कि उनका सपना है कि वह इस स्थान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाना है। इसके लिए वह लगातार प्रयास करते रहेंगे।

यह भी पढ़ें : हाईकोर्ट ने सचिव शहरी विकास को व्यक्तिगत रूप से कोर्ट में तलब किया

यह भी पढ़ें : आइआइटी के वैज्ञानिकों का दावा, उत्‍तराखंड में भूकंप से मच सकती है बड़ी तबाही

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस