जागरण संवाददाता, नैनीताल: कुमाऊं मंडल में मुख्यमंत्री की 710 घोषणाओं में से महज 206 ही पूरी हो सकी हैं जबकि 492 घोषणा शासन स्तर पर गतिमान हैं। कुमाऊं की 12 घोषणाओं को विलोपित कर दिया गया है।

शुक्रवार को एटीआइ में मंडलायुक्त व सचिव मुख्यमंत्री राजीव रौतेला ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सीएम की घोषणाओं की समीक्षा की। आयुक्त ने सभी जिलाधिकारियों से कहा है कि जो योजनाएं पूर्ण हो चुकी हैं, उनका ब्योरा शीघ्र आयुक्त कार्यालय को उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने योजनाओं के क्रियान्वयन की रफ्तार सुस्त होने पर नाराजगी प्रकट की। उन्होंने जिलाधिकारियों से अपने स्तर से नियमित घोषणाओं की समीक्षा करने को भी कहा, साथ ही क्रियान्वयन में दिक्कत या विवाद की स्थिति होने पर स्थानीय विधायकों एवं अन्य जनप्रतिनिधियों के साथ वार्ता कर हल निकालें। उन्होंने खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहन देने के लिए मिनी स्टेडियम निर्माण प्रोजेक्ट को बढ़ावा देने को कहा। सीएम हेल्पलाइन के लंबित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए कहा कि प्रकरणों के निस्तारण में पहले से बेहतर स्थिति है।

डीएम सविन बंसल ने बताया कि नैनीताल में सीएम की घोषणाओं की समीक्षा की जा रही है। बैठक में अपर आयुक्त संजय खेतवाल, मुख्य वन संरक्षक डॉ विवेक पांडे, अपर निदेशक शिक्षा डॉ मुकुल सती, अपर निदेशक पशुपालन डॉ पीसी कांडपाल, एसई नलकूप संजय कुशवाहा, निदेशक चिकित्सा स्वास्थ डॉ संजय साह, एसई जल संस्थान विशाल सक्सेना, संयुक्त निदेशक समाज कल्याण वंदना सिंह, मुख्य अभियंता लोनिवि दीपक यादव, उपनिदेशक अर्थसंख्या राजेन्द्र तिवारी, नगर आयुक्त सीएस मर्तोलिया, डीडीओ रमा गोस्वामी, सीएमओ डॉ भारती राणा, अधीक्षण अभियंता लोनिवि रणजीत सिंह रावत आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस