जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : पुलवामा में बीते दिनों हुए आतंकी हमले में जवानों की शहादत पर शहर गमगीन है। सड़कों पर कैंडल मार्च निकल रहा है और दिलो में गुनाहगारों के लिए आग जल रही है। शहीदों की याद में अभी भी आंखे डबडबाने लगती हैं। शहर में हर किसी ने सोमवार को शहीदों को श्रद्धांजलि दी और साथ ही आतंकवाद को खत्म करने की मांग उठाई। शहादत पर छलक पड़े आंसू

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद कोटाबाग की ओर से राजकीय महाविद्यालय में छात्र-छात्राओं ने शहीद सैनिकों की पुण्य स्मृति में श्रद्धांजलि अर्पित की और पाकिस्तान का पुतला दहन किया। इस दौरान नगर अध्यक्ष अभाविप कमल बोरा, नगर मंत्री चंदू सनवाल, पूर्व छात्र संघ कोषाध्यक्ष विनोद जोशी, मंडल महामंत्री ललित जोशी, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष हेमंत सिंह कपकोटी, छात्र नेता नीरज जोशी, मनोज पंवार आदि मौजूद रहे। पाक के खिलाफ उठाए जाएं सख्त कदम

वैश्य महासभा ने पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों व मेजर चित्रेश बिष्ट की शहादत पर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। शोकसभा में पाक के खिलाफ ठोस कदम उठाने की मांग सरकार से की। इस दौरान श्रीकांत खंडेलवाल, रामबाबू जायसवाल, अशोक वा‌र्ष्णेय, विंदेश गुप्ता, सुशील कुमार अग्रवाल, राजीव अग्रवाल, तनुज गुप्ता आदि मौजूद रहे। कायराना हरकत का मिले जवाब

वरिष्ठ नागरिक जन कल्याण समिति हल्द्वानी के सदस्यों ने कश्मीर में आतंकवादी कायराना हरकत से आक्रोश व्यक्त किया। वहीं सीआरपीएफ के 42 जवानों की शहादत पर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर आनंद सिंह ठिठोला, भुवन भास्कर, डीके बल्यूटिया, मोहन सिंह जंतवाल, गौरीशंकर चडढा, प्रेमा जोशी, बीसी भगत, आनंद सिंह आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran