जागरण संवाददाता, हल्द्वानी : भाजपा प्रदेश अध्यक्ष तीरथ सिंह रावत का कहना है कि कांग्रेस के अंतर्कलह से सरकार के कामकाज की पोल खुल रही है। सरकार बनने के बाद से पार्टी के कामकाज को पूर्व सीएम विजय बहुगुणा व सीएम हरीश रावत के कार्यकाल के रूप में जोड़कर प्रचारित किया जा रहा है। दोनों ही एक दूसरे के कार्यकाल की खामियां उजागर कर रहे हैं, विपक्ष को यहां खंडन की जरूरत ही नहीं पड़ रही है।

कुमाऊं संभाग कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में तीरथ ने कहा कि बीजेपी के लोकायुक्त बिल व टांसफर नीति को ठंडे बस्ते में डालने वाले पूर्व सीएम बहुगुणा अब इसे लागू करने की बात कह रहे हैं। कांग्रेस को डर है कि यदि लोकायुक्त बिल पास हुआ तो सभी अंदर होंगे। उन्होंने जोड़ा कि 20 रुपये की थाली में गरीबों को भरपेट भोजन नहीं मिल रहा। यदि इस योजना का सरकार चलाना चाह रही है तो छत्तीसगढ़ से सीख ले, जहां पांच रुपये में भरपेट खाना दिया जा रहा है। सीएम के प्रधान मुख्य सचिव राकेश शर्मा पर निशाना साधते हुए रावत ने उन्हें 2017 के लिए कांग्रेस का कमाऊ पूत कहा। नागार्जुन, एडीबी, वुडहिल व यूपीपीसीएल आदि कंपनियों व संस्थाओं से सरकार मोटा कमीशन लेकर मानकों से इतर काम करा रही है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस