संवाद सहयोगी मंगलौर: गदरजुड्डा गांव में कच्ची शराब की बिक्री से आक्रोशित महिलाओं ने जमकर हंगामा काटा। आक्रोशित महिलाओं ने शराब के जरीकेन उठाकर पटक दिए। साथ ही शराब बेच रहे लोगों और खरीददारों को जमकर पीटा। सुबह के समय महिलाओं ने शराब से होने वाले नुकसान को लेकर ग्रामीणों को जागरूक करने के लिए गांव में रैली का आयोजन भी किया।

मंगलौर कोतवाली क्षेत्र के गदरजुड्डा गांव में काफी समय से कच्ची शराब की बिक्री हो रही है। कुछ लोग गांव के बाहर खेत में शराब की भट्टी लगाकर गांव में कच्ची शराब की बिक्री कर रहे हैं, जिससे माहौल खराब हो रहा है। इसे लेकर शुक्रवार रात को गांव की महिलाओं का गुस्सा फूट गया। रात के समय गांव में कच्ची शराब बेच रहे शराब विक्रेताओं को महिलाओं ने पकड़ लिया और उनकी जमकर पिटाई की। यही नहीं शराब खरीदने के लिए वहां पर आये लोगों को भी महिलाओं ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। महिलाओं के गुस्से को देख शराब बेचने वाले लोगों ने वहां से भागकर जान बचाई। महिलाओं ने इन लोगों को गांव में शराब बेचने पर इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई कराने की चेतावनी दी। शनिवार सुबह गांव की सभी महिलाओं ने अवैध शराब की बिक्री से हो रहे नुकसान के प्रति लोगों को जागरूक करने लिए गांव में रैली निकाली, जिसके माध्यम से लोगों को शराब से होने वाले नुकसान के बारे में बताते हुए इससे दूर रहने की नसीहत दी। गांव में रैली निकालने के बाद महिलाओं ने एक बैठक का भी आयोजन किया, जिसमें तय किया कि गांव में अवैध शराब की बिक्री नहीं होने दी जाएगी। इस मौके पर सुरेखा, केमता, मेधावती, बिरमकली, रेखा, सोनी, राजदुलारी, केला, सुरेशो, फूल्लो, मुन्नी, मेहरो, माया, बरखा आदि शामिल रही।

Posted By: Jagran