जागरण संवाददाता, हरिद्वार : तंत्र-मंत्र से इलाज करने के नाम पर युवती के शारीरिक शोषण के मामले में महिला सहित चार आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के मुताबिक ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्र के एक मोहल्ला निवासी युवती ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम की अदालत में प्रार्थना पत्र दिया था। जिसमें बताया था कि उसकी तबियत काफी समय से खराब चल रही थी। एक परिचित ने उसके पिता को तांत्रिक से इलाज कराने की सलाह दी। जिस पर उसके पिता ने धनपुरा निवासी फारूख से संपर्क किया। आरोप है कि फारूख ने युवती पर शैतानी साया बताते हुए तंत्र-मंत्र से इलाज करने के नाम पर चार लाख रुपये ठग लिए। लेकिन स्वास्थ्य ठीक होने के बजाय युवती गुमसुम रहने लगी। काफी पूछने पर युवती ने अपनी मां को तांत्रिक के शारीरिक शोषण की आपबीती बताई। इसके बाद युवती के परिवार ने फारूख से मिलकर आपत्ति जताई और पैसे वापस मांगे। मगर उसने पैसे नहीं लौटाए। युवती का आरोप है कि फारूख और उसके परिवार ने ज्वालापुर में उनके घर आकर मारपीट की और अश्लील वीडियो वायरल कर बदनाम करने की धमकी दी। कोर्ट ने सुनवाई करते हुए मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए। जिस पर पुलिस ने रविवार को आरोपित फारुख, नूर अली, अलीहसन, आलम और रोजीना निवासीगण धनपुरा पथरी हरिद्वार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। ज्वालापुर कोतवाल योगेश सिंह देव ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस