जागरण संवाददाता, रुड़की: नगर निगम सभागृह में शुक्रवार को रेहड़ी संचालकों एवं उनको दी जाने वाली सुविधाओं को लेकर विचार-विमर्श किया गया। रेहड़ी वालों की समस्या को दूर करने के लिए शहर में जल्द ही वेंडिग जोन बनाने का निर्णय लिया गया।

बैठक में नगर निगम के महापौर गौरव गोयल ने बताया कि नगर निगम क्षेत्र में रेहड़ी वालों की समस्या स्थायी रूप से समाप्त करने के लिए वेंडिग जोन बनाया जाएगा। साथ ही प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के अंतर्गत दस हजार रुपये का ऋण भी उपलब्ध कराया जा रहा है। इस दौरान तीन संस्थाओं की ओर से तैयार की गई रेहड़ी का महापौर गौरव गोयल और नगर आयुक्त नुपूर वर्मा ने निरीक्षण किया। इस अवसर पर सहायक नगर आयुक्त चंद्रकांत भट्ट, मंडी समिति के पूर्व अध्यक्ष संजय चोपड़ा, प्रवीण कुमार, सुरेश कुमार, विनोद कुमार, बीएस चौहान, वरुण मल्होत्रा, अब्दुल कय्यूम आदि मौजूद रहे।

डेंगू हंटर्स टीम ने 62 स्थानों पर किया भ्रमण

नगर निगम की डेंगू हंटर्स टीम ने शुक्रवार को रामनगर, आवास विकास और मकतूलपुरी में डेंगू का लार्वा ढूंढा। साथ ही डेंगू जागरूकता अभियान भी चलाया। डेंगू हंटर्स टीम ने 62 स्थानों पर भ्रमण किया। शुक्रवार को किसी भी स्थान पर डेंगू का लार्वा नहीं पाया गया। डेंगू हंटर्स टीम के साथ निगम के पार्षदों ने भी घर-घर जाकर डेंगू से बचाव के तरीके समझाए। टीम में सूर्या मोहन, विशाल, अभिनव, अर्पित, मुकेश, कपिल आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस