जागरण संवाददाता, हरिद्वार। Haridwar Kumbh 2021 कुंभ मेला पुलिस ने मकर संक्रांति स्नान पर्व के लिए ट्रैफिक प्लान जारी कर दिया है। इसके तहत 13 जनवरी रात से दो दिन के लिए शहर में भारी वाहनों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। दिल्ली व मुजफ्फरनगर की ओर से आने वाले निजी वाहन लंढौरा से वाया लक्सर हरिद्वार पहुंचे। वहीं, सहारनपुर की ओर से आने वाले वाहनों को भगवानपुर से झबरेड़ा होते हुए लंढौरा-लक्सर मार्ग से हरिद्वार भेजा जाएगा। रोडवेज बसों के लिए यह डायवर्जन केवल यातायात का दबाव बढ़ने पर लागू होगा।

कुंभ मेला आइजी संजय गुंज्याल ने बताया कि दिल्ली की ओर से आने वाले हल्के वाहनों को मंगलौर बस अड्डे से डायवर्ट कर लंढौरा, लक्सर से जगजीतपुर पुलिया डायवर्जन से दक्षद्वीप होते हुए बैरागी कैंप, चंडी चौक होते हुए चमगादड़ टापू मैदान पर पार्क कराया जाएगा। इन वाहनों की वापसी रुड़की हाईवे से होगी। देहरादून की ओर से हरिद्वार आने वाले छोटे चार पहिया वाहन पावन धाम स्थित पार्किंग व चमगादड़ टापू में पार्क होंगे। ये दोनों पार्किंग भर जाने पर देहरादून की ओर से आने वाले वाहनों को नेपाली तिराहे से डायवर्ट कर चीला मार्ग से गौरी शंकर पार्किंग में लाया जाएगा।

कुंभ मेला आइजी ने बताया कि दिल्ली, मेरठ, मुजफ्फरनगर, रुड़की की ओर से आने वाली रोडवेज बसें हाईवे से आकर ऋषिकुल पुल पार कर उत्तराखंड राज्य परिवहन बस अड्डे पर जाएंगी व इनकी वापसी भी इसी मार्ग से होगी। यदि राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों का अधिक दबाव रहता है तो इन बसों को मंगलौर बस अड्डे डायवर्ट कर लंढौरा, लक्सर से जगजीतपुर तिरछी पुलिया डाइवर्जन से दक्षद्वीप होते हुए बैरागी पार्किंग पर पार्क कराया जाएगा।

वहीं, देहरादून की ओर से आने वाली रोडवेज बसें भी हरिद्वार बस अड्डे में पार्क कराई जाएंगी। जबकि निजी व अन्य बसें मोतीचूर व ऋषिकुल मे पार्क होंगी। उन्होंने बताया कि हरिद्वार शहरी क्षेत्र में 13 जनवरी की रात 12 बजे से 15 जनवरी की रात 10 बजे तक भारी वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित रहेगा। दूध, तेल, गैस आदि के ट्रक व टैंकर पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा।

शहर में भीड़ बढ़ने पर लागू होगी यह व्यवस्था

शहर में श्रद्धालुओं और उनके वाहनों की भीड़ अत्यधिक बढ़ जाती है, उस स्थिति में भी एक कार्ययोजना तैयार की गई है। मेला एसएसपी जन्मेजय प्रभाकर खंडूरी ने बताया कि शहर की सभी पार्किंग भर जाने पर बाहर से आने वाले वाहनों को शहर से बाहर अन्य जगहों पर पार्क कराया जाएगा। इसके तहत सहारनपुर से आने वाले वाहनों को रुड़की, धनौरी, पथरी रोह पुल से सलेमपुर (पथरी पावर हाउस) होते हुए सिडकुल चौराहे से होते हुए हिंदुस्तान लीवर के पास बने चौराहे से चिन्मय डिग्री कालेज, शिवालिक नगर चौक होते हुए मध्य मार्ग से धीरवाली पार्किंग स्थल पर पार्क किया जाएगा। 

दिल्ली की तरफ से देहरादून जाने वाले वाहनों को रुड़की से ही भगवानपुर, छुटमलपुर से देहरादून की तरफ भेजा जाएगा। ऋषिकेश की तरफ से दिल्ली जाने वाले वाहनों को ऋषिकेश से वीरभद्र बैराज, चीला मार्ग से नजीबाबाद रोड से मंडावली, मंडावर, मुजफ्फरनगर होते हुए दिल्ली भेजा जाएगा। इसी प्रकार देहरादून से मुरादाबाद की ओर जाने वाले वाहनों को नेपाली तिराहा से डायवर्ट कर श्यामपुर बीरभद्र बैराज चीला मार्ग से होकर नजीबाबाद भेजा जाएगा। मुरादाबाद से देहरादून आने वाले वाहनों को चंडी घाट पुल से डायवर्ट करके चीला मार्ग से होकर वीरभद्र से श्यामपुर, नेपाली तिराहा से भेजा जाएगा। 

आइजी कुंभ संजय गुंज्याल ने बताया कि मकर सक्रांति स्नान पर्व के लिए ट्रैफिक प्लान जारी किया गया है। शहर में 13 जनवरी की रात से भारी वाहनों की एंट्री बंद कर दी जाएगी। डायवर्जन लागू होने पर डायवर्जन प्वाइंट पर संबंधित थाना प्रभारी व सेक्टर पुलिस अधिकारी खुद मौजूद रहकर व्यवस्था प्रभावी रूप से लागू कराएंगे। ट्रैफिक डायवर्जन प्वाइंट और पार्किंग में यातायात पुलिस के जवान मुस्तैद रहेंगे।

यह भी पढ़ें- Maha Kumbh 2021: कुंभ मेले को देखते हुए पुलिस ने गंगा तट पर चलाया अभियान, बाहरी लोगों के सामान की ली तलाशी

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021