संवाद सहयोगी, मंगलौर: चोरी की बाइक पर फर्जी नंबर प्लेट लगाकर रुड़की की ओर जा रहे एक युवक को पुलिस ने हिरासत मे लिया है। आरोपित के पास से बरामद बाइक को तीन साल पहले भगवानपुर से चुराया गया था। बाइक स्वामी ने बाइक की पहचान कर ली है।

सोमवार रात करीब नौ बजे कोतवाली के उपनिरीक्षक पुष्पेन्द्र कुमार और लोकमार परमार कांवड़ पटरी पर संदिग्ध वाहनों की चे¨कग कर रहे थे। तभी पुलिस को किसी ने बताया कि एक युवक चोरी की बाइक लेकर आ रहा है। इस पर मंगलौर पुलिस युवक की तलाश में जुट गई। जैसे ही युवक को बाइक के साथ देखा तो पुलिसकर्मियों ने उसको रुकने का इशारा किया। इस पर युवक बाइक को वापस मोड़कर भागने लगा। पुलिसकर्मियों ने भी बाइक से उसका पीछा करना शुरू कर दिया। घेराबंदी कर पुलिसकर्मियों ने उसे पकड़ लिया। पूछताछ करने पर उसने अपना नाम तौफिक निवासी ग्राम अकबरपुर ढाढेकी बताया। बाइक के चेसिस नंबर के आधार पर जांच करने पर पता चला कि उस पर लगाई गई प्लेट नकली है। पूछताछ के बाद तौफिक ने पुलिस को बताया कि उसने बाइक को एक सप्ताह पहले तीन हजार रूपये मे ग्राम टांडा भन्हेडा निवासी युवक से खरीदी थी। छानबीन में पता चला कि बाइक रुड़की के शिवमपुरी निवासी सचिन काम्बोज की है। बाइक बरामद होने की जानकारी पर मंगलौर कोतवाली पहुंचे सचिन काम्बोज ने बताया कि तीन साल पहले उसकी बाइक भगवानपुर से चोरी हो गई थी। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक गिरीश चंद शर्मा ने बताया कि अब उस व्यक्ति की तलाश की जा रही है, जिससे तौफिक ने बाइक खरीदी है।

Posted By: Jagran