जागरण संवाददाता रुड़की : भगवानपुर कस्बे की एक शिक्षिका की चेन टप्पेबाजों ने साफ कर दी। वहीं घटना के बाद तीन थानों की पुलिस पीड़िता को इधर-उधर घूमाती रही, लेकिन मुकदमा दर्ज नहीं किया। तीनों थाने की पुलिस दूसरे के थाने का मामला बताकर पल्ला झाड़ती नजर आई।

भगवानपुर कस्बा निवासी पूजा मूल रूप से बिहार की रहने वाली है और कस्बे के एक स्कूल में शिक्षिका है। शिक्षिका के पति कहीं बाहर नौकरी करते हैं। गुरुवार को वह भगवानपुर कस्बे के भारतीय स्टेट बैंक में गई थी। महिला ने बैंक अधिकारियों से गोल्ड लोन लेने की जानकारी ली। साथ ही महिला ने बैंक अधिकारियों को गोल्ड चेन दिखाई। बैंक अधिकारियों ने चेन की जांच कराने के लिए कहा। चेन की जांच सर्राफ से कराने के लिए शिक्षिका टेंपो से रुड़की आ रही थी। रामपुर चुंगी के पास महिला ने अपना बैग देखा तो चेन गायब हो चुकी थी। इसी दौरान महिला के पास टेंपो में सवार दो महिला भी उतरकर फरार हो गई। महिला ने गंगनहर कोतवाली की अस्पताल चौकी पहुंचकर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने जांच पड़ताल की ओर महिला को सिविल लाइंस कोतवाली भेज दिया। सिविल लाइंस कोतवाली में पीड़ित ने पुलिस के सामने रो रोकर आपबीती सुनाई। सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस कुछ देर तक पीड़ित को शहर में घुमाती रही। इसके बाद उन्हें फिर से अस्पताल चौकी भेज दिया। अस्पताल चौकी पुलिस ने शिक्षिका को लेकर उस टेपों की तलाश की, जिसमें सवार होकर वह रुड़की आई थी। पुलिस ने घटनास्थल के आसपास लगे कैमरे खंगाले। पीड़ित ने टेंपो में सवार दो महिलाओं पर टप्पेबाजी का शक जताया। पुलिस ने इसके बाद शिक्षिका को भगवानपुर थाने भेज दिया। वहीं भगवानपुर पुलिस ने भी मामला रुड़की का बताते हुए पल्ला झाड़ लिया। एसपी देहात एसके सिंह ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है। इस मामले में जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021