हरिद्वार, [जेएनएन]: विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय संगठन महामंत्री विनायक राव देशपांडे ने कहा कि विधर्मी जाति और समुदाय के नाम पर हिंदू एकता को खंड-खंड करने की बड़ी साजिश कर रहे हैं। जात-पात का बीज बोकर हिंदू एकता को तोड़ने का प्रयास देश में बड़े स्तर पर चल रहा है। 

विहिप के स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में ज्वालापुर मार्ग स्थित एक बैंक्वेट हॉल में कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इस दौरान देश पांडे ने कहा कि समाज के पिछड़े वर्ग को गुमराह कर हिंदू विरोधी ताकतें धर्मांतरण करा रही है। आज देश की सामाजिक समरसता के सामने सबसे बड़ा संकट सब को एकजुट करने का है। 

धर्म विरोधी ताकतें लगातार ऐसे वर्ग को चिह्नित कर बड़े स्तर पर धर्मांतरण के कार्य में लगी हैं, जो आर्थिक व सामाजिक रूप से कमजोर प्रतीत होते हैं। उन्होंने सभी हिंदुओं से जात-पात भूलकर एकजुट होने का आह्वान किया। विहिप के क्षेत्रीय संगठन मंत्री मनोज वर्मा ने कहा कि विदेशी फंडिंग के बल पर हिंदू विरोधी ताकतें देश में काम कर रही हैं। हमें एकजुट होकर ऐसी ताकतों का विरोध करना होगा।

यह भी पढ़ें: हरीश रावत ने पीएम मोदी को बताया घोटाले का पिता 

यह भी पढ़ें: बढ़ती महंगाई के खिलाफ डोईवाला में कांग्रेसियों ने फूंका केंद्र सरकार का पुतला