जागरण संवाददाता, हरिद्वार: जिला मुख्यालय स्थित एआरटीओ कार्यालय में दलाली व भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए शिवसेना ने सख्ती से रोक लगाने की मांग की है। संगठन की बैठक में तय हुआ कि आम लोगों को लूट खसोट से बचाने के लिए जिलाधिकारी से मुलाकात की जाएगी।

प्रदेश सिटीजन सरदार सुलखान सिंह के निवास पर आयोजित बैठक में वक्ताओं ने जनहित से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की। चंद्रशेखर चौहान की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में जिला प्रमुख चरणजीत पाहवा ने कहा कि आम आदमी रोजाना नए-नए एक्ट आने से परेशान है। वह यातायात नियमों का पालन करने के लिए लाइसेंस व दस्तावेज संबंधी प्रक्रिया पूरी करने के लिए जब एआरटीओ कार्यालय जाता है, तो उसके साथ लूट खसोट की जाती है। आरोप लगाया कि एआरटीओ कार्यालय पर दलालों ने कब्जा जमाया हुआ है। बैठक में तय हुआ कि इस बारे में एक प्रतिनिधिमंडल जल्द ही जिलाधिकारी दीपेंद्र चौधरी से मुलाकात करेगा, ताकि आम आदमी को शोषण से निजात मिल सके। बैठक में विशाल शर्मा, बबलू शर्मा, मुकेश उपाध्याय, कपिल त्यागी, धर्मेंद्र, प्रदीप कुमार, चमन लाल, मांगेराम, अमित प्रजापति, विक्की चौहान, अभिषेक पंडित आदि शामिल हुए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप