रुड़की, जेएनएन। मुख्य शिक्षा अधिकारी हरिद्वार ने गुरुवार को कलियर स्थित एक जूनियर हाईस्कूल का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान विद्यालय में कई अनियमितताएं मिलीं। विद्यालय में प्रार्थना सभा के समय राष्ट्रगान नहीं गाया जा रहा था। इसके अलावा बुधवार को बच्चों को विशेष पोषाहार भी नहीं दिया जा रहा था। निरीक्षण के दौरान विद्यालय के चार शिक्षक भी गैरहाजिर मिले हैं। मुख्य शिक्षा अधिकारी ने पूरे स्टाफ का वेतन रोके जाने के निर्देश जारी कर दिये हैं। मुख्य शिक्षा अधिकारी ने विद्यालय के प्रधानाध्यापक को रिकार्ड के साथ तलब किया है। वहीं अनुपस्थित मिले शिक्षकों से स्पष्टीकरण भी तलब किया है। 

कलियर स्थित एमजीएसएम जूनियर हाईस्कूल में अनियमितता की शिकायत पर गुरुवार को मुख्य शिक्षा अधिकारी डॉ. आनंद भारद्वाज ने विद्यालय का औचक निरीक्षण किया। विद्यालय में निरीक्षण के दौरान चार शिक्षक रफीक अहमद, जुल्फीकार, मोहम्मद युनुस और प्रवीण कुमार गैरहाजिर मिले। इन चारों शिक्षकों के अवकाश पर होने की कोई पूर्व सूचना भी विद्यालय में नहीं थी। मुख्य शिक्षा अधिकारी डॉ. आनंद भारद्वाज ने बताया कि निरीक्षण के दौरान पता चला कि विद्यालय प्रार्थना सभा के समय राष्ट्रगान नहीं गाया जाता है। उसके स्थान पर कोई नज्म आदि पढ़ी जाती है। 

एमडीएम में हर बुधवार को विशेष पोषण देने की व्यवस्था है, लेकिन जानकारी करने पर पता चला कि विद्यालय में बच्चों को विशेष पोषण नहीं दिया जाता है। विद्यालय के हेड मास्टर का व्यवहार भी बच्चों के प्रति संतोषजनक नहीं है। विद्यालय में साप्ताहिक अवकाश रविवार के स्थान पर शुक्रवार को रखा जाता है। रविवार को विद्यालय अन्य दिनों की तरह से चलता है। विद्यालय में मिली इन अनियमितता के चलते विद्यालय स्टाफ का वेतन रोकने के निर्देश दिए है। प्रधानाध्यापक को 21 अक्टूबर को कार्यालय में रिकार्ड के साथ तलब किया गया है। 

परीक्षा कक्ष से गैर हाजिर मिले तीन शिक्षक 

मुख्य शिक्षा अधिकारी ने गुरुवार को राजकीय इंटर कॉलेज का औचक निरीक्षण किया। विद्यालय में उस समय परीक्षा चल रही थी। उन्होंने परीक्षा कक्ष का जायजा लिया तो उसमें तीन शिक्षक परीक्षा कक्ष से गायब मिले। उन्होंने तीनों शिक्षकों से स्पष्टीकरण तलब किया है। इसके साथ ही विद्यालय की व्यवस्था पर असंतोष प्रकट करते हुए प्रधानाचार्य को एक सप्ताह के भीतर व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिये हैं। 

यह भी पढ़ें: उत्‍तराखंड में अतिथि शिक्षकों का मसला लटका, पढ़ाई प्रभावित

मुख्य शिक्षा अधिकारी डॉ. आनंद भारद्वाज सुबह राजकीय इंटर कॉलेज पहुंचे। विद्यालय में मुख्य शिक्षा अधिकारी को देख स्टाफ में अफरा तफरी का माहौल बन गया। मुख्य शिक्षा अधिकारी सीधे परीक्षा कक्ष में पहुंचे। उनके परीक्षा कक्ष के निरीक्षण के दौरान तीन शिक्षक गायब मिले। मुख्य शिक्षा अधिकारी डॉ. आनंद भारद्वाज ने बताया कि शिक्षक धर्मपाल ङ्क्षसह, राजपाल सिंह और रविकांत सक्सेना से इस संबंध में स्पष्टीकरण तलब किया गया है। विद्यालय के प्रधानाचार्य को व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिये गए हैं। एक सप्ताह बाद फिर से विद्यालय का निरीक्षण करेंगे। यदि इस दौरान कोई लापरवाही मिलती है तो कड़ी कार्रवाई की चेतावनी भी दी है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में नियमित और तदर्थ शिक्षकों में बढ़ी तकरार, जानिए वजह

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप