रुड़की, [जेएनएन]: गोक्रांति के अग्रदूत संत गोपालमणि ने कहा कि यदि जनशक्ति एकजुट हो जाए तो फिर देश में कोई भी सरकार क्यों ना हो उसे गोमाता को राष्ट्रमाता घोषित करना ही होगा। कहा कि इसके लिए वह 676 जिलों की यात्रा करेंगे।

शहर के चावमंडी स्थित गोशाला में आयोजित प्रेसवार्ता में उन्होंने कहा कि यदि सरकार किसान से 10 रुपये गोबर प्रतिकिलो खरीदने की घोषणा कर दे तो फिर एक भी गाय सड़क पर घूमती नहीं मिलेगी। उन्होंने बताया कि गोमाता को राष्ट्रमाता का दर्जा दिलाने के लिए उन्होंने देश के 676 जिलों में यात्रा करने का संकल्प लिया है।

पढ़ें:-शंकराचार्य मठ के कोठे में विराजमान हुई आदि गुरु शंकराचार्य की गद्दी

पढ़ें: बदरीनाथ के कपाट बंद, पांडुकेश्वर में होगी शीतकालीन पूजा

पढ़ें: पांडव नृत्य में बाणों का कौथिग रहा आकर्षण का केंद्र

Posted By: Sunil Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस