जागरण संवाददाता, रुड़की। Roorkee Crime सफरपुर गांव में मुखबिरी के शक में एक ग्रामीण पर छुरी से हमला करने के मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों पर मुकदमा दर्ज किया है। हमले में ग्रामीण के हाथ की तीन अंगुलियां कट गई थी। पुलिस आरोपित हमलावरों की धरपकड़ में लगी है।

गंगनहर कोतवाली क्षेत्र के सफरपुर गांव निवासी कुर्बान ने गंगनहर कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर बताया कि चार सितंबर को किसी ने पुलिस को गांव में गोकशी की सूचना दी थी। गांव के दूसरे पक्ष को शक था कि कुर्बान पक्ष ने पुलिस को गोकशी की झूठी सूचना दी है। इसे लेकर गांव के दूसरे पक्ष के लोग उससे रंजिश रख रहे थे। पांच सितंबर को दोपहर करीब एक बजे कुर्बान बाइक की साफ-सफाई कर रहा था। तभी दूसरे पक्ष का शफीक साथियों के साथ उसके घर पर पहुंचा।

आरोप है कि शफीक पक्ष ने धारदार हथियार से हमला कर दिया, जिसमें कुर्बान की तीन अंगुलियां कट गईं। शोर मचाने पर कुर्बान की बेटी साहिबा वहां पर पहुंची। हमलावरों ने उसके साथ भी मारपीट कर दी। आसपास के ग्रामीण आने पर आरोपित जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए। घटना के बाद घायलों को सिविल अस्पताल में इलाज दिलाया गया। गंगनहर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि तहरीर पर शफीक, छोटू और अफजल निवासी सफरपुर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। हमलावरों की तलाश की जा रही है।

घर में घुसकर महिलाओं और बच्चों पर हमला

गाधारौणा गांव में बच्चों के विवाद को लेकर एक पक्ष ने दूसरे के घर पर हमला कर दिया। जिसमें महिला और बच्चों को बुरी तरह से पीटा गया। पुलिस ने इस मामले में महिला समेत 12 नामजद समेत अन्य पर मुकदमा दर्ज किया है। मंगलौर कोतवाली क्षेत्र के गाधारौणा गांव निवासी आदेश गिरी ट्रक चालक है। आदेश ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया कि वह अक्सर ट्रक में माल लेकर बाहर जाता है। इसलिए घर पर उसकी पत्नी और बच्चे अधिकांश समय अकेले रहते हैं।

यह भी पढ़ें- Love Triangle: महिला से मिलने पर पहले प्रेमी को गंवानी पड़ी जान, दूसरे ने उतारा मौत के घाट; ऐसे खुला मामला

बताया कि आठ सितंबर 2021 को वह ट्रक लेकर बाहर गया था। इसी दौरान उसके बच्चों से पड़ोस के बच्चों का विवाद हो गया। जिस पर दूसरे पक्ष की महिला समेत 12 से अधिक लोग उसके घर पर आ धमके और उसकी पत्नी और बच्चों पर लाठी डंडों से हमला कर दिया। जिसमें उसकी पत्नी और बच्चे घायल हो गये। घटना को लेकर मौके पर काफी देर तक हंगामा हुआ। मंगलौर कोतवाली पुलिस ने इस मामले में तहरीर के आधार पर माया, स्नेहलता, मोंटी, सुनीता, सज्जो, विमला, ब्रजेश, रवि, पूनम, अमन, नीला, रजत समेत अन्य महिलाओं पर बलवे और अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

यह भी पढें- रुड़की की युवती से दुष्कर्म करने पर उत्तरप्रदेश पुलिस के कांस्टेबल पर मुकदमा, जानिए पूरा मामला

Edited By: Raksha Panthri