संवाद सूत्र, भगवानपुर: सड़क हादसे में मारे गए दो टोल कर्मचारियों की मौत के मुआवजे की मांग को लेकर किसान संगठनों ने टोल प्लाजा पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया है। इस दौरान किसानों ने टोल को फ्री करा दिया, जिसे लेकर पुलिस के साथ उनकी जमकर नोकझोंक हुई। देर शाम तक किसानों को धरना जारी रहा।

भगवानपुर टोल प्लाजा के तत्कालीन मैनेजर मायेश शुक्ला, कर्मचारी प्रियांशु सैनी और एक अन्य की मेरठ में आठ अक्टूबर को सड़क हादसे में मौत हो गई थी। टोल प्लाजा के दोनों कर्मचारियों की मौत के मुआवजे की मांग को लेकर भारतीय किसान यूनियन क्रांति गुट के राष्ट्रीय अध्यक्ष विकास सैनी के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकत्र्ता सोमवार को टोल पर पहुंचे। किसानों ने यहां पर धरना प्रदर्शन शुरू किया। राष्ट्रीय अध्यक्ष विकास सैनी ने कहा कि दोनों कर्मचारियों की मौत का मुआवजा जब तक इनके स्वजन को नहीं मिल जाता, तब तक वह चैन से नहीं बैठेंगे। किसानों ने जमकर नारेबाजी। इसी दौरान भगवानपुर पुलिस मौके पर पहुंची। थाना प्रभारी पीडी भट्ट ने किसान नेताओं को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह मानने को तैयार नहीं हुए। इसी बीच किसानों ने टोल को फ्री करा दिया। इसे लेकर पुलिस के साथ इनकी नोकझोंक भी हुई। किसानों ने साफ शब्दों में कहा कि जब तक दोनों कर्मचारियों के स्वजन को 25-25 लाख का मुआवजा नहीं मिल जाता तब तक धरना जारी रहेगा। सूचना मिलने पर एसडीएम वृजेश तिवारी भी मौके पर पहुंचे और किसानों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन शाम तक सहमति नहीं बन पाई थी। इस अवसर पर विनोद प्रजापति, प्रवीण कुमार, खुशाल सैनी, संजय कुमार, पंकज, प्रवीण, आदेश कुमार, विनोद, रोबिन, राजेश, रामेंद्र, विनोद चौधरी समेत सैकड़ों कार्यकत्र्ता मौजूद रहे।

--------

धरने पर आपस में उलझे किसान नेता

टोल प्लाजा पर मुआवजे की मांग को लेकर भारतीय किसान यूनियन क्रांति गुट ने अपना बैनर लगाया था। इसी बीच अन्य संगठनों से जुड़े किसान भी धरना स्थल पर समर्थन में पहुंचे। अन्य संगठनों के किसानों ने क्रांति गुट के बैनर लगाए जाने का विरोध किया। इसे लेकर किसान नेता आपस में उलझ गए। इसे लेकर मौके पर हंगामा हो गया। किसी तरह से मामला शांत कराया गया।

----

पंजाब नेशनल बैंक के बाहर हंगामा

भारतीय किसान यूनियन तोमर गुट के युवा प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौहान के नेतृत्व में सोमवार को किसानों ने बुग्गावाला स्थित पंजाब नेशनल बैंक के बाहर हंगामा किया। आरोप लगाया कि बैंक कर्मचारी कृषि कार्ड बनाने के नाम पर उगाही कर रहे है। मौके पर पहुंचे बुग्गावाला थाना प्रभारी प्रशांत बहुगुणा ने किसी तरह से किसानों को समझा-बुझाकर शांत कराया।

Edited By: Jagran