संवाद सहयोगी, हरिद्वार: वीमैन इन पब्लिक सेक्टर रानीपुर चैप्टर के तत्वावधान में 'क्या ओल्ड एज होम की आवश्यकता है' विषय पर बीएचईएल के स्वर्ण जयंती हॉल में वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। वरिष्ठ नागरिकों की ज्वलंत समस्या पर आधारित इस कार्यक्रम में भेल में कार्यरत महिला कर्मचारियों व आसपास के संस्थान की महिलाओं ने बड़ी संख्या में भाग लिया।

कार्यक्रम का शुभारंभ भेल परिसर की प्रथम महिला एवं संरक्षिका बीएचईएल महिला क्लब रश्मि गुलाटी ने किया। वाद-विवाद प्रतियोगिता में विषय के पक्ष में कविता सेठ, अमिता वा‌र्ष्णेय, सुष्मिता जबकि विपक्ष में प्रतिभा गुप्ता, प्रियंका यादव और रीना रॉय की टीम ने विचार व्यक्त किए। प्रियंका सैनी ने स्वरचित कविता नाना-नानी व दादा-दादी का दुलार से सभी श्रोताओं को मंत्र-मुग्ध कर दिया।

वरिष्ठ नागरिक फोरम शिवालिक नगर के अध्यक्ष सर्वेश गुप्ता, उपाध्यक्ष एमके रैना एवं अपर महाप्रबंधक फेब्रिकेशन पीके गर्ग ने भी विचार व्यक्त किए। रश्मि गुलाटी, संजय सिन्हा महाप्रबंधक मानव संसाधन, मनीषा सक्सेना एवं पीके गर्ग ने निर्णायक की भूमिका निभाई। पहली बार विजेता टीम का चयन ऑडियंस पोल तथा निर्णायक मंडल के सम्मिलित निर्णय से किया गया। इस मौके पर संजय गुलाटी महाप्रबंधक प्रभारी हीप, संयोजिका निवेदिता जैन, अंजलि मित्तल आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran