जागरण संवाददाता, रुड़की: केल्हणनपुर गांव में तालाब पर अतिक्रमण के मामले में प्रशासनिक टीम के बैरंग लौटने से ग्रामीणों में रोष है। सोमवार को ग्रामीणों ने एसडीएम दफ्तर पर प्रदर्शन करने का ऐलान किया है।

पिछले साल से केल्हणपुर गांव के तालाब पर अतिक्रमण का मामला चल रहा है। प्रशासनिक टीम ने कई बार इस तालाब से अतिक्रमण हटाने की कोशिश की, लेकिन हर बार किसी न किसी दबाव के चलते प्रशासनिक टीम ने अपने हाथ पीछे खींच लिए। आरोप है कि चुनाव के दौरान प्रशासनिक मशीनरी चुनाव में व्यस्त रही और पूरे तालाब पर कब्जा कर लिया गया। गुरुवार को इस संबंध में ग्रामीणों का एक प्रतिनिधिमंडल भाकियू के प्रदेश उपाध्यक्ष पदम ¨सह रोड के नेतृत्व में अपर उप जिलाधिकारी से मिला और कार्रवाई करने की मांग उठाई। इस पर शनिवार को एएसडीएम गोपाल ¨सह चौहान, तहसीलदार मंजीत ¨सह गिल प्रशासनिक टीम को साथ लेकर गांव में पहुंच गए। करीब आधे घंटे तक टीम रही। ग्रामीणों ने तालाब से कब्जा हटाने की मांग की, लेकिन टीम लौट गई। टीम ने ग्रामीणों को बताया कि तालाब की दोबारा से पैमाइश होगी और इसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। भाकियू के प्रदेश उपाध्यक्ष पदम ¨सह रोड ने कहा कि प्रशासनिक टीम दबाव में काम कर रही है। चेतावनी दी कि ग्रामीण सोमवार को उप जिलाधिकारी के दफ्तर पर धरना-प्रदर्शन करेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस