रुड़की, जेएनएन। चोरी के एक मामले में 33 साल से फरार चल रहे ढाई हजार के इनामी को सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस ने धर दबोचने में सफलता हासिल की। वह हरिद्वार जिले के ही भगवानपुर थाना क्षेत्र में पहचान छिपा कर रह रहा था। उसके कब्जे से तमंचा भी मिला है। 

दरअसल, 11 मई 1986 को आइआरआइ कॉलोनी निवासी सिंचाई विभाग के सहायक अभियंता अफजल खान के आवास का ताला तोड़कर चोरों ने पंखा, चूल्हा समेत हजारों रुपये का सामान चोरी कर लिया था। इस सिलसिले में पुलिस ने 16 मई 1986 को राजू कालिया निवासी मकतूलपुरी, गंगनहर कोतवाली रुड़की को गिरफ्तार किया था। कुछ अंतराल में  जमानत पाने के बाद वह फरार हो गया। तब से पुलिस उसकी तलाश कर रही थी, लेकिन उसका पता नहीं चल पा रहा था। 

इस पर हरिद्वार के एसएसपी ने उस पर ढाई हजार रुपये इनाम घोषित कर दिया। हालिया दिनों में पुलिस को सूचना मिली कि आरोपित राजू कालिया भगवानपुर क्षेत्र के मंडावर गांव में अपनी पहचान छिपाकर रह रहा है। पुलिस ने वहां उसे गिरफ्तार कर लिया। सिविल लाइंस कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह ने बताया कि वह एक फैक्ट्री में नौकरी कर रहा था। उसे सोमवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

 यह भी पढ़ें: कोर्ट में पेशी के बाद बंद घरों को निशाना बनाते थे ये शातिर Dehradun News

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस