हरिद्वार, जेएनएन। तीन साल से फरार चल रहे पंजाब के वन्यजीव तस्कर को एसटीएफ उत्तराखंड और श्यामपुर थाने की पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया। तस्कर पर 10 हजार का इनाम घोषित था और वह जगह बदल-बदलकर पुलिस से छिपता आ रहा था। एसटीएफ और पुलिस ने जाल बिछाकर उसे दबोच लिया।

पुलिस के मुताबिक माडूराम उर्फ माडू उर्फ भांडू उर्फ भड़ियाडू निवासी भटिंडा पंजाब हाल निवासी मोगा पंजाब के खिलाफ वन्यजीव तस्करी के कई मुकदमे दर्ज चले आ रहे थे। लगातार पकड़ से बाहर होने के चलते माडू की गिरफ्तारी पर 10 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। क्राइम ड्राइव अभियान के तहत एसटीएफ उत्तराखंड और श्यामपुर थाने की पुलिस टीम माडू की तलाश में जुटी थी। संयुक्त टीम ने आखिरकार आइएमसी चौक श्यामपुर से माडू को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस टीम में एसओ श्यामपुर दीपक कठैत, उपनिरीक्षक अमरीश और कर्मवीर, कांस्टेबिल उम्मेद, रामाशीष और रमेश के अलावा एसटीएफ की टीम शामिल रही। एसओ श्यामपुर दीपक कठैत ने बताया कि इनामी तस्कर की तीन साल से तलाश चल रही थी। उसे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश करते हुए जेल भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें: नशे के इंजेक्शन की खेप के साथ सौदागर धरा, मेरठ से लाई जा रही थी खेप

कुख्यात रामचंद्र गिरोह का सदस्य है माडू

पुलिस और एसटीएफ के हत्थे चढ़ा माडूराम उर्फ माडू कुख्यात वन्यजीव तस्कर गिरोह का सदस्य है। बावरिया जनजाति से ताल्लुक रखने वाला गैंग का सरगना रामचंद्र वर्ष 2016 में बाघ की पांच खाल और 100 हड्डियों के साथ गिरफ्तार हुआ था। गैंग के फरार सदस्य रामभगत और प्रताप को पुलिस ने वर्ष 2017 में गिरफ्तार कर लिया। उनके साथी हजारी, मुख्तियार और माडू फरार चल रहे थे। तीनों की गिरफ्तारी पर 10-10 हजार का इनाम घोषित किया गया था। श्यामपुर थाने की पुलिस ने पिछले एक माह के भीतर हजारी और मुख्तियार को गिरफ्तार कर लिया था। अब माडू भी पुलिस के हत्थे चढ़ गया। 

यह भी पढ़ें: पुलिस ने स्मैक की तस्करी में दो युवकों को किया गिरफ्तार Dehradun News

एसओ श्यामपुर दीपक कठैत ने बताया कि जंगल में गड्ढा खोदकर उसे झाडिय़ों और पत्तों से ढकने के बाद गिरोह के सदस्य आस-पास छिप जाता है। वन्यजीव गड्ढे में गिरने के बाद भाले और रॉड से उसे मारने के बाद खाल और हड्डियों की तस्करी की जाती है।

यह भी पढ़ें: लग्जरी कार से ला रहा था शराब की खेप, 12 पेटी संग गिरफ्तार Dehradun News

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस