जागरण संवाददाता, हरिद्वार: जीवा के शूटरों और बंदी रक्षकों के बीच झगड़ा होने के अगले ही दिन रोशनाबाद जिला जेल में एक और मोबाइल बरामद हो गया। सफाई के दौरान शौचालय की छत पर मोबाइल पड़ा मिला। इस मामले में जेल अधीक्षक ने अज्ञात के खिलाफ सिडकुल थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। इससे पूर्व भी जेल में कई बार बंदियों के मोबाइल से बात करने की बात सामने आ चुकी है।

रोशनाबाद जेल में लगातार कैदियों के पास मोबाइल मिल रहे हैं। यह है कि कुख्यात ही नहीं छोटे अपराधियों के पास से भी मोबाइल बरामद हो चुके हैं। शुक्रवार को जीवा के शूटर शाहरुख पठान से झगड़ा होने पर बंदी रक्षक नितिन सजवाण ने आरोप लगाया था कि शाहरुख मोबाइल चला रहा था और रोकने पर उसने मारपीट की। जेल के तीन कैदियों में डेंगू की पुष्टि होने पर शनिवार को परिसर और छतों की साफ सफाई का काम चल रहा था। तभी शौचालय की छत पर सफाई के दौरान एक कर्मचारी की नजर मोबाइल पर पड़ी। मोबाइल स्विच ऑफ था। ऐसा लग रहा था कि उसे जल्दबाजी में शौचालय की छत पर फेंका गया है। इससे जेल की सुरक्षा और वहां से अपराधियों के गैंग ऑपरेट होने को लेकर भी प्रशासन की भूमिका पर गंभीर सवाल उठ रहे हैं। सिडकुल एसओ देवराज शर्मा ने बताया कि अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

Posted By: Jagran