हरिद्वार, [जेएनएन]: सहारनपुर के सरसावा से प्रेमी संग फरार हुई युवती के परिजन दोनों की तलाश करते हुए हरिद्वार पहुंच गए। ज्वालापुर में परिजनों ने दोनों को ढूंढ निकाला और जमकर पिटाई की। परिजनों ने प्रेमी पर चाकू से हमला कर दिया और अपनी बेटी को लेकर भाग निकले। आस-पड़ोस के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद पुलिस ने लहुलुहान प्रेमी को जिला अस्पताल भिजवाया। पुलिस की सूचना पर प्रेमी के परिजन देर रात हरिद्वार के लिए रवाना हो चुके थे।

पुलिस के मुताबिक, सहारनपुर जनपद के कस्बा सरसावा निवासी विक्की पुत्र मांगेराम पेशे से पेंटर है और सहारनपुर में काम करता है। कस्बे की एक युवती से विक्की का प्रेम प्रसंग चल रहा था। सोमवार को दोनों घर से भाग निकले और हरिद्वार पहुंच गए। यहां ज्वालापुर के मौहल्ला लोधामंडी में उन्होंने सावित्री देवी से किराये पर कमरा भी ले लिया। इधर, युवती के परिजन उनकी तलाश करते रहे। उन्हें दोनों के ज्वालापुर में होने की भनक लग गई।

मंगलवार देर शाम एक गाड़ी में सवार होकर पांच छह लोग लोधामंडी पहुंचे और कमरे में मौजूद प्रेमी जोड़े की पिटाई शुरू कर दी। परिजन युवती को अपने साथ ले जाने लगे। प्रेमी ने इसका विरोध किया। आरोप है कि परिजनों ने विक्की की गर्दन व हाथ पर चाकू से हमला कर दिया। चीख पुकार सुनकर आस पास के लोग जमा हो गए और पुलिस के आने तक उन्हें रोकने लगे। लेकिन परिजन अपनी बेटी को ले जाने में कामयाब रहे।

सूचना पर कार्यवाहक कोतवाली प्रभारी संजीव थपलियाल मौके पर पहुंचे और लहुलुहान विक्की को जिला अस्पताल पहुंचाया। युवक की हालत खतरे से बाहर है। कार्यवाहक कोतवाली प्रभारी संजीव थपलियाल ने बताया कि विक्की के परिजनों को घटना की सूचना दे दी गई है। परिजन हरिद्वार के लिए रवाना हो गए हैं। उन्होंने बताया कि दोनों ने मकान मालकिन सावित्री को अगले दिन आईडी प्रूफ देने का वादा किया था।

यह भी पढ़ें: प्रेमी ने पत्नी तो प्रेमिका ने पति को मृत बता रचा ली शादी

यह भी पढ़ें: साथ रहने पर अड़ीं दो समलैंगिक महिलाएं, पुलिस से मांगी मदद

यह भी पढ़ें: युवती पक्ष ने बरात को आने से किया मना, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

Posted By: Sunil Negi