जागरण संवाददाता, हरिद्वार: सिडकुल क्षेत्र में शराब के ठेके पर लूट की घटना में पुलिस तह तक जाने में जुटी है। दरअसल ठेके पर मौजूद तीनों सेल्समैन के बयानों में विरोधाभास पाए जाने पर पुलिस को घटना संदिग्ध लग रही है। ऐसा भी पता चल रहा है कि सेल्समैन के साथ ग्राहकों की मारपीट हुई थी। इसके बाद उन्होंने पुलिस को ठेके पर लूट की सूचना दी। हालांकि पुलिस की यह थ्योरी भी अभी स्पष्ट नहीं है।

सिडकुल में अंग्रेजी शराब के ठेके पर शनिवार की रात 95 हजार लूट की सूचना पुलिस को दी गई थी। सेल्समैन संदीप, विजेंद्र व सुमन आदि का कहना था कि दो युवक शराब खरीदने के बहाने ठेके पर आए और असलहे दिखाकर डरा-धमकाते हुए 95 हजार की नगदी लूट ली। जाते समय दोनों बदमाश ठेके पर लगे सीसीटीवी कैमरे की डीवीआर भी उखाड़ ले गए। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन की। एसओ प्रशांत बहुगुणा ने एएसपी सदर आयुष अग्रवाल को घटना की जानकारी दी। लेकिन किसी कारणवश एसएसपी तक घटना की जानकारी नहीं पहुंच सकी। सोमवार को घटना का पता चलने पर एसएसपी ने नाराजगी जताई। तब अधीनस्थों ने एसएसपी को बताया कि शुरुआती छानबीन में घटना संदिग्ध लग रही है। इसलिए मामले की गहराई तक जांच की जा रही है। इसलिए अभी तक मुकदमा भी दर्ज नहीं किया गया। एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय ने बताया कि मामले की जांच चल रही है। यदि वास्तव में घटना हुई है तो मुकदमा दर्ज कर लिया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप