जागरण संवाददाता, रुड़की: लंढौरा कस्बा में एक वांरटी को पकड़ने गई पुलिस टीम को लोगों ने घेर लिया। पुलिस के साथ नोकझोंक और हाथापाई हो गई। पुलिस के भीड़ में फंसने पर आरोपित मकान की छत से कूदकर फरार हो गया। पुलिस ने लोगों को लाठी फटकारते हुए वहां से खदेड़ा। देर रात तक मौके पर हंगामा होता रहा।

लंढौरा कस्बा निवासी एक व्यक्ति के फैमिली कोर्ट से वारंट जारी हुए थे। पुलिस उसकी गिरफ्तारी में लगी थी। लंढौरा पुलिस को रविवार रात को सूचना मिली कि आरोपित अपने घर में सो रहा है। सूचना के मिलने पर पुलिस की एक टीम ने रात करीब दो बजे आरोपित को पकड़ने उसके घर पर दबिश दी। पुलिस टीम ने जैसे ही उसे गिरफ्तार करने का प्रयास किया तो आसपास के ग्रामीण भी मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों के साथ महिलाओं ने पुलिस टीम को घेर लिया और कार्रवाई का विरोध किया। भीड़ में शामिल लोगों ने पुलिस के साथ हाथापाई कर दी। मामला तूल पकड़ता देख पुलिस टीम ने मंगलौर कोतवाली पुलिस को सूचना दी। हंगामे के बीच मौका पाकर आरोपित घर से फरार हो गया। अन्य पुलिस बल भी मौके पर पहुंच गया। पुलिस ने लाठी फटकारते हुए भीड़ को खदेड़ दिया। जिससे गांव में अफरातफरी मच गई। आरोपित के फरार होने के बाद पुलिस की टीम बैरंग लौट गई। सोमवार सुबह पुलिस के रवैये से नाराज होकर कई ग्रामीण और महिलाएं एसपी देहात कार्यालय पहुंचे और पुलिसकर्मियों पर मारपीट करने का आरोप लगाया। ग्रामीणों ने इस मामले में पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। एसपी देहात मणिकांत मिश्रा ने मामले की जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

Posted By: Jagran