जागरण संवाददाता, हरिद्वार : Haridwar Kumbh Mela 2021 अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की 24 या 25 फरवरी को हरिद्वार में होने वाली बैठक का बुलावा अब तक तीन बैरागी अणियों के अध्यक्षों तक नहीं पहुंचा है। तीनों बैरागी अणियों ने अखाड़ा परिषद पर उपेक्षा का आरोप लगाया था। नाराज बैरागी अणियां अब बैठक से ही किनारा करने की तैयारी में हैं। तीनों अणियों के अध्यक्ष इन दिनों वृंदावन में हैं। 

 अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की वर्तमान व्यवस्था को लेकर बैरागी अणियों की नाराजगी कम होने का नाम नहीं ले रही है। बैरागी अणियों ने हरिद्वार कुंभ से पहले नई अखाड़ा परिषद के गठन को अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद का चुनाव कराने की मांग की है। बैरागी अखाड़ों का आरोप है कि वर्तमान अखाड़ा परिषद में अध्यक्ष और महामंत्री दोनों ही पद संन्यासी अखाड़ों के पास हैं, जबकि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की परंपरा और नियमानुसार इनमें से एक पद संन्यासी अखाड़े और एक पद बैरागी अखाड़े के पास होना चाहिए था। पर, ऐसा नहीं है, इस कारण अखाड़ा परिषद में बैरागी अखाड़ों की कोई सुनवाई नहीं हो रही है और न ही उनके कोई कार्य ही कराए जा रहे हैं। यहां तक कि कुंभ की तैयारियों को लेकर बैरागी अणियों को न तो भूमि का आवंटन किया गया है और न ही राज्य सरकार की ओर अब तक कोई सहायता ही दी गई है। बैरागी अखाड़ों की इस नाराजगी के बीच राज्य सरकार ने हरिद्वार कुंभ की अवधि को घटाते हुए महज एक अप्रैल से 30 अप्रैल तक सीमित कर दिया। इसे लेकर अखाड़ा परिषद ने अपना रूख स्पष्ट करने को हरिद्वार में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की बैठक करने की घोषणा की है। 

यह भी पढ़ें- Haridwar Kumbh Mela 2021: कुंभ में श्रद्धालुओं को मिलेगी बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं, आउट पोस्टों पर बनेंगे नौ मेडिकल रिलीफ पोस्ट

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि बैठक के लिए वह 22 फरवरी को हरिद्वार पहुंच रहे हैं। वहीं, निर्मोही अणि के अध्यक्ष महंत राजेंद्र दास ने बताया कि ङ्क्षदगबर अणि के अध्यक्ष कृष्णदास, निर्वाणी अणि के धर्मदास और वह स्वयं यमुना कुंभ (संत समागम) के लिए इन दिनों वृंदावन में हैं। उन्हें अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की बैठक का कोई बुलावा नहीं मिला है। 

यह भी पढ़ें- Haridwar Kumbh Mela 2021:कुंभ के उद्घाटन समारोह में पांच सौ ब्रह्मचारी करेंगे शंखनाद

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप