जागरण संवाददाता, हरिद्वार। Haridwar Kumbh Mela 2021 घुड़सवार नागा संन्यासी और दो-दो घोड़े के भव्य रथों पर विराजमान आचार्य महामंडलेश्वर, महामंडलेश्वर, श्रीमहंत, महंत और साधु-संत। कुंभनगरी में निकाली गई श्रीशंभू पंचदशनाम आह्वान अखाड़ा की यह पहली पेशवाई थी, जिसमें वास्तविक रथों का ऐसा भव्य नजारा देखने को मिला। बैंड धुन और हर-हर महादेव की अनुगूंज के बीच पेशवाई में नागा संन्यासियों की करतब दिखाती पैदल जमात बरबस हर किसी का ध्यान अपनी ओर खींच रही थी। स्थान-स्थान पर श्रद्धालु पेशवाई का स्वागत करने के साथ संत-महात्माओं का आशीर्वाद ले रहे थे। रात नौ बजे पेशवाई ने अपनी छावनी में प्रवेश किया। इससे पूर्व, सुबह निकली तपोनिधि श्रीपंचायती अखाड़ा आनंद की पेशवाई नजारा भी सम्मोहित कर देने वाला था।

श्रीशंभू पंचदशनाम आह्वान अखाड़ा की पेशवाई अपने ईष्ट देव की पूजा-अर्चना के बाद दोपहर तीन बजे के आसपास ज्वालापुर के पांडेयवाला स्थित गुघाल मंदिर से छावनी के लिए रवाना हुई।

ज्वालापुर बाजार, श्रीराम चौक, ऊंचा पुल, आर्यनगर, शंकर आश्रम, योगी विहार, खन्ना नगर, चंद्राचार्य चौक, रानीपुर मोड़, टिबड़ी मोड़, ऋषिकुल तिराहा, देवपुरा, शिवमूर्ति चौक व वाल्मीकि चौक होते हुए पेशवाई ने देर शाम माया देवी मंदिर परिसर स्थित अपनी छावनी में प्रवेश किया।

परंपरा के अनुसार धर्मध्वजा के पीछे अखाड़े के देवता और फिर आचार्य महामंडलेश्वर शिवेंद्रपुरी महाराज का रथ चल रहा था। अखाड़े के संरक्षक श्रीमहंत नीलकंठ गिरि का रथ उनके पीछे था। पेशवाई में 16 मढ़ी हरियाणा से आए श्रीमहंत महेंद्र पुरी, 13 मढ़ी गुजरात से आए श्रीमहंत भारद्वाज गिरि, चार मढ़ी मध्य प्रदेश व 14 मढ़ी जम्मू कश्मीर से आए रमता पंचों के अलावा अखाड़े के महामंत्री श्रीमहंत सत्य गिरि, सभापति पूनम गिरि, श्रीमहंत बिहारी गिरि, श्रीमहंत राकेश गिरि, श्रीमहंत राजेंद्र भारती, श्रीमहंत भोला गिरि, श्रीमहंत मनमोहन गिरि, श्रीमहंत बालयोगी पुरी आदि शामिल थे।

तीर्थ पुरोहितों ने भी भाग लिया

पेशवाई में तीर्थ पुरोहितों के साथ ही पंचायती धड़े के सदस्यों ने भारी संख्या में भाग लिया। इनमें पंचायती धड़े के अध्यक्ष महेश तुंबडिय़ा, महामंत्री उमाशंकर वशिष्ठ, कोषाध्यक्ष सचिन कौशिक, पंडित योगेश्वर वशिष्ठ, बृजेश वशिष्ठ, पंडित करुणेश मिश्र, विपुल मिश्रौटे, सरदार निर्मल गोस्वामी, अनिरुद्ध वशिष्ठ, संजय वशिष्ठ, अजय हैमनके, सुधीश श्रोत्रिय, अनिल कौशिक, सुनील मिश्रा, सौरभ सिकोला, उमेश कौशिक, वासु अत्रेय, अंकुर पालीवाल, दीपक बागडोली आदि तीर्थ पुरोहित शामिल थे। इससे पूर्व पंचायती धड़े की ओर सभी संत-महात्माओं का फूल मालाओं से स्वागत किया गया।

पांवधोई चौक पर मुस्लिम समाज ने किया स्वागत

जुमे की नमाज के बाद पांवधोई चौक पर एकत्र हुए मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पेशवाई का भव्य स्वागत किया। स्वागत करने वालों में शाहनवाज सलमानी, सोहेल, भूरा, आरिफ सलमानी, आसिफ, नसीम सलमानी आदि प्रमुख थे।

संतों को पिलाया शीतल जल

चौक बाजार व्यापार संघ के अध्यक्ष सुधीश श्रोत्रिय के नेतृत्व में व्यापारी वंशज वर्मा, प्रदीप गुप्ता, अनूप गर्ग आदि ने पेशवाई में शामिल संत-महात्माओं को शीतल जल व फल वितरित किए। जबकि, श्रीराम चौक व्यापार मंडल के अध्यक्ष राकेश मल्होत्रा, महामंत्री ओमप्रकाश पावा की टीम ने मेला महामंडलेश्वर, नागा संन्यासी व तीर्थ पुरोहितों का माल्यार्पण कर स्वागत किया।

यह भी पढ़ें-आनंद अखाड़े की पेशवाई में दिखा नागा संन्यासियों का अवधूती वैभव, तस्वीरों में देखें उत्सव

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप