हरिद्वार, जेएनएन। विदेशी पिस्टल के साथ हरिद्वार की सैर करना दिल्ली के चार युवकों को भारी पड़ गया। पुलिस ने चारों को गिरफ्तार कर हवालात भेज दिया है। ये सभी पहले भी अवैध हथियार रखने के आरोप में जेल की हवा खा चुके हैं।

पुलिस के मुताबिक कांवड़ मेला स्थगित होने के चलते रात हरिद्वार पुलिस की अलग-अलग टीमें शहर कोतवाल अमरजीत सिंह के नेतृत्व में बाहरी यात्रियों की चेकिंग कर रही थी। रात करीब डेढ़ बजे अलकनंदा होटल की ओर से एक गाड़ी निकली। उसमें आगे की सीट पर बैठे युवक पर नजर पड़ी तो पुलिस हैरान रह गई। 

युवक ने हाथ में असलहा लिया हुआ था। पुलिस ने जब रुकने का इशारा किया तो चालक ने गाड़ी की रफ्तार बढ़ा ली। पुलिस ने उनका पीछा किया और घेराबंदी करते हुए गाड़ी को कुछ दूरी पर रोक लिया। तलाशी लेने पर एक युवक से इटली की बनी पिस्टल और चार कारतूस बरामद हुए। पुलिस चारों युवकों को पकड़कर शहर कोतवाली ले आई। 

पूछताछ में आरोपितों ने अपने नाम प्रवीण सिंह उर्फ सूर्या निवासी देवली गांव खानपुर, शिवम उर्फ रोहित निवासी नेहरू नगर, श्रवण उर्फ अक्षय निवासी राजू पार्क ग्राम देवली और सुबेर सिंह निवासी लाजपतनगर दिल्ली बताए। एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय ने बताया कि आरोपितों में दो युवक प्रॉपर्टी डीलर, एक ईवेंट मैनेजमेंट कंपनी का मालिक और एक छात्र है। चारों घूमने फिरने के लिए हरिद्वार आए थे। उनकी गाड़ी सीज कर दी गई है।

पुलिस टीम को शाबाशी व ईनाम 

एसएसपी सैंथिल अबूदई कृष्णराज एस ने पुलिस टीम को शाबाशी दी है। साथ ही इनाम की घोषणा भी की है। टीम में शहर कोतवाल अमरजीत सिंह, एसएसआइ जगमोहन रमोला, उपनिरीक्षक पवन डिमरी, कांस्टेबल प्रमोद पुरोहित, सते सिंह, चंद्रशेखर, आनंद तोमर आदि शामिल रहे।

हथियार लेकर कैसे पार किया बॉर्डर 

श्रवण मास शुरू होने से पहले हरिद्वार में विदेशी पिस्टल के साथ दिल्ली के चार युवक पकड़े जाने पर बॉर्डर की चौकसी पर सवाल खड़े हो रहे हैं। आला अधिकारी लॉकडाउन से लगातार सीमाओं पर मुस्तैदी का दावा कर रहे हैं। फिर कांवड़ मेला स्थगित होने के बाद से पुलिस को और ज्यादा सक्रिय रहने के निर्देश दिए हैं। 

इसके बावजूद दिल्ली के चार युवक विदेशी पिस्टल व कारतूस लेकर बॉर्डर कैसे पार कर गए। पुलिस सिर्फ नाम पते नोट करने में रह गई और कार की तलाशी लेने की जहमत नहीं उठाई गई। अगर बॉर्डर पर दिल्ली नंबर की कार को तसल्ली से खंगाला जाता तो यह मामला जिले की सीमा पर ही पकड़ में आ जाता।

यह भी पढ़ें: पुलिस और एसओजी की टीम ने अंतरराज्यीय गिरोह के दो मास्टरमाइंड दबोचे

प्रवीण के खिलाफ पांच मुकदमे

शहर कोतवाल अमरजीत सिंह ने बताया कि आरोपित प्रवीण सिंह के खिलाफ दिल्ली के अलग-अलग थाने कोतवाली में पांच मुकदमे दर्ज हैं। बाकी आरोपितों के खिलाफ एक दो मुकदमे दर्ज होने की जानकारी मिली है। उससे बरामद पिस्टल की कीमत तीन से साढ़े तीन लाख बताई गई है।

यह भी पढ़ें: आरपी ईश्वरन के घर डकैती का एक और आरोपित गिरफ्तार Dehradun News

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस