हरिद्वार, जेएनएन। डेढ़ दांत वाले हाथी ने आजकल भेल क्षेत्र को अपना ठिकाना बना लिया है। दरअसल, हाथी रोजाना भेल क्षेत्र में धमक रहा है। जिससे वन विभाग की टीम को उसे खदेड़ने जाना पड़ रहा है। हालांकि, सुकून की बात यह है कि हाथी ने अभी तक किसी भी तरह से जान-माल का नुकसान नहीं पहुंचाया है, लेकिन फिर भी टीम अलर्ट है और लोगों से भी सतर्क रहने की अपील की जा रही है। 

भेल कर्मी समेत तीन को मौत की नींद सुलाने वाले हत्यारे टस्कर को पकड़कर वन विभाग की टीम ने मीठावाली कैंप में छोड़ दिया था। वहां उसके व्यवहार का अध्ययन किया जा रहा है। इस बीच उसके जाते ही एक डेढ़ दांत वाले हाथी ने भेल क्षेत्र में दस्तक देनी शुरू कर दी थी। जिससे क्षेत्र के लोगों में डर का माहौल बना हुआ है। हालांकि रात के समय आ रहे हाथी पर वन विभाग की टीम लगातार नजर रख रही है, जिससे हाथी किसी हादसे को अंजाम न दे सके। 

वन विभाग के अनुसार, पहले यह हाथी बुग्गावाला क्षेत्र में रहता था। काफी समय से वह वहीं पर अपना निवास बनाए हुआ था, पर अब बुग्गावाला का जंगल छोड़कर भेल क्षेत्र में पहुंच गया है। इससे टस्कर के पकड़े जाने बाद लोग अब डेढ़ दांत वाले हाथी की सक्रियता के कारण दहशत में हैं। वन दारोगा ओपी सिंह का कहना है कि डेढ़ दांत वाले हाथी की लोकेशन और गतिविधियों पर लगातार नजर रखी जा रही है। जिससे वह किसी पर हमला न कर सके।

यह भी पढ़ें: आखिरकार पकड़ा गया हत्यारा हाथी, जानिए कैसे आया पकड़ में

यह भी पढ़ें: हरिद्वार में हाथी का आतंक, भेलकर्मी को मार डाला

यह भी पढ़ें: भेल मार्ग पर हाथियों का उत्पात, ऑटो पलटकर राहगीरों को दौड़ाया 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप