हरिद्वार, जेएनएन। हरकी पैड़ी पर ड्रोन कैमरा उड़ा रहे कोलंबिया के एक नागरिक को पुलिस ने पकड़ लिया। पुलिस और खुफिया विभाग ने उससे लंबी पूछताछ की। विदेशी नागरिक का कहना था कि वह ड्रोन कैमरे से हरकी पैड़ी पर गंगा आरती शूट करने हरिद्वार आया था। पुलिस ने उसका ड्रोन कैमरा सीज कर दिया, जबकि पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया गया। 

विश्व प्रसिद्ध हरकी पैड़ी सुरक्षा की दृष्टि से बेहद संवेदनशील है। हरिद्वार रेलवे स्टेशन पर कई बार मिले धमकी भरे पत्रों में हरकी पैड़ी सहित प्रमुख मंदिरों को बम से उड़ाने की धमकी भी मिल चुकी है, जिस कारण हरकी पैड़ी पर फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी के लिए अनुमति लेनी जरूरी है। 

देर शाम हरकी पैड़ी के गंगा घाटों पर एक ड्रोन कैमरा मंडराता देख सबकी नजरें ठहर गई। सूचना पर हरकी पैड़ी पुलिस गंगा घाटों पर पहुंची और अपने मोबाइल से ड्रोन कैमरा उड़ा रहे संदिग्ध को पकड़ लिया। पूछताछ में उसने अपना नाम लेविस रिचार्ड निवासी बोलानोस, डियाज़ कोलंबिया बताया। 

शहर कोतवाल प्रवीन सिंह कोश्यारी ने आला अधिकारियों को पूरे मामले की जानकारी दी। इसके बाद खुफिया विभाग की टीम ने हरिद्वार कोतवाली में विदेशी नागरिक से लंबी पूछताछ की। लेविस रिचर्ड ने बताया कि वह ऋषिकेश के कैलाशानंद आश्रम में ठहरा हुआ है। उसके बारे में ऋषिकेश स्थित आश्रम से भी पुलिस ने संपर्क साधा। 

पूरी जानकारी जुटाने के बाद पुलिस ने विदेशी नागरिक का ड्रोन कैमरा सीज कर दिया और उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया। एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय ने बताया कि बिना अनुमति हरकी पैड़ी क्षेत्र की वीडियोग्राफी करने पर विदेशी नागरिक का ड्रोन कैमरा सीज किया गया है। 

यह भी पढ़ें: ऋषिकेश में बिना अनुमति ड्रोन उड़ाने पर पुलिस ने काटा चालान

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस