जागरण संवाददाता, रुड़की: केएलडीएवी पीजी कॉलेज में बीएड विभाग, तृतीय सेमेस्टर के प्रशिक्षुओं ने ड्रॉमा एंड आ‌र्ट्स इन एजुकेशन विषय पर लघु नाटिका का प्रस्तुतीकरण किया। इसमें प्रतिभागियों ने शिक्षा, स्वच्छता, नैतिक मूल्यों, समाज में महिलाओं की दशा एवं उनके प्रति सोच आदि मुद्दों को उठाया।

मंगलवार को बीएड प्रशिक्षुओं ने अलग-अलग समूहों में लघु नाटिका प्रस्तुत की। प्रतियोगिता में प्रथम समूह माइंड मूवर्स ने 'मुनिया की कहानी', द्वितीय समूह दस का दम टीम ने स्वच्छता बनाए रखने के लिए 'यमराज व चित्रगुप्त' के संवाद, तृतीय समूह ग्रेट मैट्स ने 'नैतिकता का पतन', चतुर्थ समूह वी आर यूनिक ने 'तकनीक के सही एवं सुरक्षित उपयोग' और पंचम समूह फ्लाइंग ब‌र्ड्स ने 'सोच बदलो' विषय पर नाटक प्रस्तुत किया। दस का दम टीम ने प्रथम स्थान हासिल किया। जबकि माइंड मूवर्स द्वितीय और वी आर यूनिक ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। दस का दम टीम ने अपनी प्रस्तुति के माध्यम से दिखाया कि स्वच्छता बनाए रखने के लिए किसी बाह्य आयोजन व आडंबर की आवश्यकता नहीं है, वरन सोच व आचरण बदलने की जरूरत है। इस टीम में अंशु, अनु भारती, जूली, सपना, मीनाक्षी, नेहा गुप्ता, सरिता, टीना सैनी, राहुल और रजत पाल शामिल रहे। माइंड मूवर्स टीम में आरती ममंगई, अंकिता यादव, अनुराधा, बबीता, किरन, मधु, सोनम, दीपेश व मनोज और टीम वी आर यूनिक में लक्ष्मी, प्रिया, ऋचा, साक्षी, स्वाति सैनी, स्वाति चौधरी और अंशु चौधरी रहे। इस मौके पर प्राचार्य डॉ. यशोदा मित्तल, बीएड की विभागाध्यक्ष डॉ. पूर्णिमा श्रीवास्तव व अन्य शिक्षक और बीएड द्वितीय एवं तृतीय सेमेस्टर के प्रशिक्षु उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस