रुड़की, जेएनएन। कोतवाली सिविल लाइंस क्षेत्र के ढंडेरा गांव में मिले शव का परिजनों ने पुलिस के पहुंचने से पहले ही अंतिम संस्कार कर दिया। अब इस मामले में मृतक के भाई की ओर से पुलिस को तहरीर दी गई है। 

दरअसल, कोतवाली सिविल लाइंस पुलिस को सूचना मिली कि ढंडेरा रेलवे फाटक के समीप खाली पड़े मैदान में एक व्यक्ति का शव पड़ा है। इस पर पुलिस जब तक मौके पर पहुंची, परिजन शव को ले गए। मृतक की पहचान जसवीर निवासी टोडा कल्याणपुर कोतवाली सिविल लाइंस के रूप में हुई। परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया। 
कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह ने बताया कि रविवार को मृतक का भाई भरत थाने में पहुंचा और उसने पुलिस को तहरीर दी है। उसने पुलिस को बताया कि उसे इस बात का शक है कि किसी ने उसके भाई की हत्या की है और शव को फाटक के पास फेंक दिया है। उन्हें सुबह इसकी जानकारी हुई। इस पर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि परिजनों को पुलिस के पहुंचने से पहले अंतिम संस्कार नहीं करना चाहिए था। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि प्रार्थना पत्र के आधार पर मामले की जांच शुरू कर दी गई है।
सोलानी नदी से मिला लापता व्यक्ति का शव 
कोतवाली मंगलौर क्षेत्र के मोहल्ला मलानपुरा निवासी मुर्तजा उम्र 60 साल दो दिन से लापता था। रविवार को किसी ने पुलिस को सूचना दी कि टोडा खटका गांव के पास सोलानी नदी में एक व्यक्ति का शव पड़ा है। इस पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उसकी पहचान मुर्तजा के रूप में हुई। सूचना पाकर परिजन भी मौके पर पहुंच गए।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप