जागरण संवाददाता, रुड़की: नकली दवा फैक्ट्री संचालित होने और विभाग की निष्क्रियता को लेकर डीएम का पारा चढ़ा हुआ है। डीएम ने पूरे जिले में सघन चे¨कग अभियान शुरू करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही इसे जीवन से खिलवाड़ बताते हुए लोगों से भी ऐसे लोगों के बारे में सूचना देने को कहा है।

तीन दिन पहले उप्र के मुरादाबाद जिले से आई औषधि नियंत्रण विभाग की टीम ने रुड़की में तीन नकली दवा बनाने की फैक्ट्री पकड़ी थी। दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था। चार लोग अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं। एसपी देहात ने बताया कि जो लोग फरार हैं, उनकी गिरफ्तारी के लिए गंगनहर कोतवाली पुलिस की दो टीमों को लगाया गया हैं। दूसरी ओर जिलाधिकारी भी पूरे मामले से बेहद खफा हैं। उन्होंने औषधि विभाग को बड़े पैमाने पर अभियान चलाने के निर्देश दिए है। साथ ही बताया यदि अभियान चलाने के लिए कर्मचारियों की जरूरत पड़ती है तो उनको भी उपलब्ध कराया जाएगा, लेकिन जिस तरह से दूसरे राज्यों की टीमें यहां आकर छापा मारकर मामले पकड़ रही है और स्थानीय अधिकारियों को पता नहीं चलता हैं, यह अपने आप में गंभीर है। उन्होंने बताया कि यह जीवन से सीधे-सीधे खिलवाड़ है। इसलिए लोगों को भी चाहिए कि वह इसकी सूचना प्रशासन को दें। प्रशासन भी कार्रवाई करेगा। पुलिस महकमे को भी अलर्ट किया गया है।

Posted By: Jagran